अगले सप्ताह कैबिनेट में आ सकता है तेलंगाना विधेयक

  • अगले सप्ताह कैबिनेट में आ सकता है तेलंगाना विधेयक
You Are HereNational
Thursday, November 28, 2013-9:37 PM

नई दिल्ली : आंध्र प्रदेश के विभाजन से जुडे मुद्दे पर गठित मंत्रिसमूह (जीओएम) ने तेलंगाना विधेयक के मसौदे के साथ अपनी रिपोर्ट को अंतिम रूप दे दिया है। संभवत: अगले सप्ताह केन्द्रीय मंत्रिमंडल के समक्ष रिपोर्ट सौंपा जाएगा।

इस सिलसिले में आज केन्द्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिन्दे की उनके मंत्रिमंडलीय सहयोगियों पी चिदंबरम और जयराम रमेश से बैठक हुई । इस मुद्दे पर शिन्दे और रमेश की गृह सचिव अनिल गोस्वामी और गृह मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत हुई ।

शिन्दे ने संवाददाताओं से कहा कि बंटवारे और इसके बाद तेलंगाना एवं आंध्रप्रदेश के शेष हिस्से के बीच संपत्तियों के बंटवारे के विभिन्न मुद्दों पर उन्होंने चर्चा  हुई। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि कुछ विचार-विमर्श शेष रह गए हंै। उन्होने कहा कि मैं नहीं कह सकता कि जीओएम कैबिनेट को कब रिपोर्ट सौंपेगा। केंद्रीय कैबिनेट की कल बैठक होने वाली है। उन्होने कहा कि तेलंगाना के गठन के दौरान राज्य के किसी इलाके को ठेस नहीं पहुंचे। इसपर भी विचार जरूरी है।

जीओएम पहले आठ राजनीतिक दलों, आंध्रप्रदेश से आने वाले केंद्रीय मंत्रियों और मुख्यमंत्री एन. किरण कुमार रेड्डी और अधिकारियों के साथ कई दौर की बैठक कर चुका है और उन्होंने नए राज्य और आंध्रप्रदेश के शेष हिस्से के बीच संपत्तियों के बंटवारे पर अपने विचार दिए। शिंदे पहले ही कह चुके हैं कि तेलंगाना विधेयक को संसद के शीतकालीन सत्र में पेश किया जाएगा। उसके बाद सरकार आंध्र प्रदेश पुनर्गठन विधेयक तैयार करेगी और केन्द्रीय मंत्रीमंडल की मंजूरी के बाद इसे राष्ट्रपति के पास भेजा जाएगा । फिर इसे संसद में पेश किया जाएगा। संसद का शीतकालीन सत्र पांच दिसंबर से शुरू होकर 20 दिसंबर तक चलेगा ।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You