‘आप’ के साथ गठबंधन से परहेज नहीं: शीला दीक्षित

  • ‘आप’ के साथ गठबंधन से परहेज नहीं: शीला दीक्षित
You Are HereNational
Thursday, November 28, 2013-10:54 PM

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा के चुनावी जंग में कुछ दिन पहले तक ‘आप’ का कोई वजूद नहीं, होने की बात करने वाली मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने आचानक यू-टर्न ले लिया है। उन्होने कहा कि यदि बहुमत नहीं मिला, तो ‘आप’ के साथ गठबंधन से कोई परहेज नहीं करूंगी।

बेशक चौथी बार सरकार बनाने की बात कहने वाली मुख्यमंत्री के इस रवैये से पार्टी के कई नेता भी सकते में आ गये हैं। वहीं ‘आप’ के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि ‘आप’ किसी भी कीमत पर भाजपा या कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेगी।

बातचीत के दौरान जब दीक्षित से पूछा गया कि, दिल्ली में त्रिशंकु विधानसभा आती है, तो उस स्थिति में आपके सामने क्या विकल्प होगा? इसके जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा, हमारे सामने सभी विकल्प खुले हुए हैं। कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए ‘आप’ से समर्थन लेने में कोई परहेज नहीं होगी।

उन्होंने कहा कि वह ‘आप’ के नेता अरविंद केजरीवाल से नाराज नहीं है, लेकिन उनकी पार्टी के काम करने के तरीकों से जरूर निराश हैं। दिल्ली में महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे पर पूछे गये एक सवाल का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं गैरजिम्मेदार नहीं हूं। भविष्य में भी मैं महिलाओं की सुरक्षा के लिए जो कर सकती हूं, उसे करने की कोशिश करूंगी। मुझे उम्मीद है कि राजधानी महिलाओं के लिए सुरक्षित बनेगी।

भ्रष्टाचार के मुद्दे पर पूछे गये एक सवाल का जवाब देते हुए शीला ने कहा कि मेरे संज्ञान में यदि कोई मामला आता है, तो मैं उसपर कार्रवाई करूंगी। लेकिन भ्रष्टाचार है कहां ? सिर्फ आरोप लगाने से बात नहीं बनती।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You