थरूर ने की तिरूवनंतपुरम में उच्च न्यायालय की पीठ बनाने की वकालत

  • थरूर ने की तिरूवनंतपुरम में उच्च न्यायालय की पीठ बनाने की वकालत
You Are HereNational
Friday, November 29, 2013-2:59 PM

कोच्चि: केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने आज एक बार फिर तिरूवनंतपुरम में केरल उच्च न्यायालय की एक पीठ के गठन की वकालत की जबकि प्रसिद्ध विधिवेत्ता और उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश वी आर कृष्णा अय्यर ने कहा कि वे उच्च न्यायालय का बंटवारा करने के खिलाफ हैं।

 

संसद में तिरूवनंतपुरम का प्रतिनिधित्व करने वाले थरूर ने ‘भारत में कानून, न्याय और शासन का भविष्य’ विषय पर आयोजित एक सम्मेलन में बोलते हुए कहा कि अधिकतर राज्यों में कई पीठें हैं। इस सम्मेलन का आयोजन न्यायाधीश कृष्णा अय्यर की 99वीं वर्षगांठ के अवसर पर किया गया था।

 

बार एसोसिएशन द्वारा सम्मेलन के बहिष्कार का फैसला करने और वकीलों को इससे दूर रहने के निर्देश देने की आलोचना करते हुए थरूर ने कहा, ‘‘सार्वजनिक जीवन के इतिहास में यह एक नई अवनति है।’’ उन्होंने कहा कि ऐसी चीजों के पीछे जो लोग हैं, उन्हें अपने आप को वकील कहने में शर्म आनी चाहिए। ऐसे लोग पेशे के लिए ‘कलंक’ हैं। मंत्री ने कहा कि उन्होंने केरल की राजधानी में उच्च न्यायालय की पीठ के गठन के सवाल पर बार एसोसिएशन के कुछ प्रमुख सदस्यों से बात करने की सोची थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You