उपहार सिनेमा कांड: SC ने अमोद कंठ के खिलाफ कार्रवाई पर लगाई रोक

  • उपहार सिनेमा कांड: SC ने अमोद कंठ के खिलाफ कार्रवाई पर लगाई रोक
You Are HereNational
Friday, November 29, 2013-4:06 PM

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने उपहार सिनेमा अग्निकांड मामले में पूर्व आईपीएस अधिकारी अमोद कंठ के खिलाफ निचली अदालत में चल रही कार्रवाई पर आज रोक लगा दी। न्यायमूर्ति के एस राधाकृष्णन और न्यायमूर्ति ए के सीकरी की खंडपीठ ने इसके साथ ही आमोद कंठ की याचिका पर केन्द्रीय जांच ब्यूरो से जवाब तलब किया है। अमोद कंठ ने उपहार सिनेमा में अतिरिक्त सीटें लगाने की अनुमति देने के मामले में निचली अदालत द्वारा 2010 में उन्हें तलब करने के आदेश को चुनौती दी है।

 

इस सिनेमाघर मे 1997 में हुए अग्निकांड में 59 दर्शकों की मृत्यु हो गई थी। इससे पहले, आमोद कंठ ने दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था।  उच्च न्यायालय से राहत नहीं मिलने पर उन्होंने शीर्ष अदालत में याचिका दायर की है। कंठ की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता अमरेन्द्र शरण और वकील सोमश झा ने न्यायालय से कहा कि उच्च न्यायालय ने इस तथ्य पर गौर नहीं किया कि सीबीआई उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए स्वीकृति लेने में विफल रही है।

 

इस अग्निकांड के पीड़ितों के अनुरोध पर ही निचली अदालत ने 12 अगस्त, 2010 को अमोद कंठ को सम्मन जारी किया था। उच्च न्यायालय ने पूर्व आईपीएस अधिकारी के इस तर्क को अस्वीकार कर दिया था कि उपहार सिनेमा में अतिरिक्त सीटें लगाने की अनुमति देने के मामले में उनके खिलाफ मुकदमा नहीं चलाया जा सकता क्योंकि जांच एजेन्सी ने इसके लिए मंजूरी हासिल नहीं की है। उच्च न्यायालय का कहना था कि यदि वह निचली अदालत में यह सवाल उठाएंगे तो वहीं पर इस मसले पर विचार किया जा सकता है।

 

उच्च न्यायालय ने कंठ की इस दलील को भी ठुकरा दिया था कि उन्हें क्लीन चिट देने वाली सीबीआई की मामला बंद करने की रिपोर्ट अस्वीकार करके निचली अदालत ने गलती की है। निचली अदालत ने 12 अगस्त, 2010 को सीबीआई की मामला बंद करने की रिपोर्ट अस्वीकार करते हुए आमोद कंठ को समन जारी करने का आदेश दिया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You