मोदी का प्रचार कर रही आई.टी. कम्पनियां लेती हैं आनलाइन ‘सुपारी’

  • मोदी का प्रचार कर रही आई.टी. कम्पनियां लेती हैं आनलाइन ‘सुपारी’
You Are HereNational
Saturday, November 30, 2013-7:22 AM

नई दिल्ली: कोबरा पोस्ट के ताजा खुलासे से सियासी हड़कम्प मच गया है। समाचार पोर्टल ने स्टिंग आप्रेशन में दावा किया है कि धन लेकर सोशल नैटवर्किंग साइट्स के जरिए नेताओं की छवि सुधारने और बिगाडऩे के खेल में लगे आई.टी. प्रोफैशनलों में से कुछ अपने फायदे के लिए बम विस्फोट कराने और दंगों की अफवाह फैलाने तक को तैयार हैं।

कोबरापोस्ट ने दावा किया है कि भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का प्रचार कर रही कम्पनियां भी इस काले धंधे में लगी हैं। कोबरा पोस्ट की यहां जारी विज्ञप्ति के अनुसार उसके आप्रेशन ब्लू वायरस में धन लेकर फेसबुक और ट्विटर पर फर्जी प्रशंसक मुहैया कराने तथा अपने ग्राहकों के प्रतिद्वंद्वियों की छवि बिगाडऩे के काले धंधे में लगी देश भर की लगभग 2 दर्जन आई.टी. कंपनियों की पोल खुल गई है। इन कंपनियों के ग्राहकों में राजनीतिक दलों के नेताओं के अलावा कार्पोरेट घराने, गैर-सरकारी संगठन और दागी सरकारी अधिकारी भी शामिल हैं।

आई.टी. प्रोफैशनलों में से एक ने स्टिंग आप्रेशन के दौरान कोबरा पोस्ट के सहायक संपादक सैयद मसरूर हसन से कहा कि वह वोटरों के बारे में विस्तृत जानकारी मुहैया कराने के अलावा बम विस्फोट भी करवा सकता है। कंपनियां तमाम ऐसी तकनीक का इस्तेमाल करती हैं जिनसे पकड़े जाने से बचा जा सके और अपने मोबाइल नंबर सार्वजनिक होने से बचने के लिए इंटरनैट आधारित एस.एम.एस. सेवाओं का सहारा लेती हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You