राजीव शुक्ला की सोसायटी को कौडिय़ों में दिए करोड़ों के प्लाट

  • राजीव शुक्ला की सोसायटी को कौडिय़ों में दिए करोड़ों के प्लाट
You Are HereNational
Saturday, November 30, 2013-7:29 AM

मुम्बई: केन्द्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला की बी.ए.जी. फिल्म्स एजुकेशन सोसायटी को करोड़ों के बेशकीमती सरकारी प्लाट करीब 35 साल पुराने रेट पर कौडिय़ों के मोल देने का मामला सामने आया है। 2008 में महाराष्ट्र सरकार ने इस सोसायटी को एक प्लाट जहां मामूली कीमत पर बेचा, वहीं उसी दिन दूसरा प्लाट महज 6309 रुपए में 15 साल की लीज पर दे दिया गया। हाल में जारी किए गए सरकारी दस्तावेजों से इसका खुलासा हुआ है।

इन दस्तावेजों के मुताबिक अंधेरी में स्थित प्राइमरी स्कूल के लिए रिजर्व 2821 स्क्वेयर मीटर के प्लाट को शुक्ला की सोसायटी को 2008 में 98,735 रुपए की मामूली-सी कीमत पर बेचा गया। दस्तावेजों से पता चलता है कि पहले प्लाट के ठीक बगल के दूसरे प्लाट, जो एक प्ले ग्राऊंड के लिए रिजर्व था, को 15 साल की लीज पर महज 6309 रुपए में शुक्ला की ही सोसायटी को दे दिया गया। हैरान कर देने वाली बात यह है कि इन दोनों प्लाट्स की मार्कीट वैल्यू 100 करोड़ रुपए से ऊपर है।

2007 में जब इन प्लाट्स के लिए आवेदन किया गया था तब अनुराधा प्रसाद इस सोसायटी की अध्यक्ष थीं जबकि उनके पति और सांसद राजीव शुक्ला इसके सचिव थे। महाराष्ट्र के राजस्व विभाग ने सितम्बर 2008 में इसका आवेदन स्वीकार किया था। शुक्ला की सोसायटी को प्लाट्स आबंटित करते समय सरकार ने 1976 के हिसाब से 140 रुपए/स्क्वेयर मीटर का मूल्य लगाया और महज 98,735 रुपए वसूले।

इसमें शर्त रखी गई कि इसका इस्तेमाल प्राइमरी स्कूल के लिए ही किया जाए।  इसी तरह प्ले ग्राऊंड के लिए रिजर्व प्लाट को उसी दिन 15 साल की लीज पर दिया गया। इसकी लीज अमाऊंट 1976 में इसकी कीमत की 10 पर्सैंट यानी 6309 रुपए लगाई गई। आखिर राज्य सरकार ने शुक्ला पर इतनी मेहरबानी क्यों दिखाई, यह अभी तक रहस्य है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You