कैदियों के पुनर्वास के लिए कयर बोर्ड चलाएगा प्रशिक्षण

  • कैदियों के पुनर्वास के लिए कयर बोर्ड चलाएगा प्रशिक्षण
You Are HereNational
Saturday, November 30, 2013-5:37 PM

 नई दिल्ली : तिहाड़ जेल के कैदियों के उत्थान एवं पुनर्वास के लिए अब कयर बोर्ड कैदियों के लिए उत्पादन एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम चलायेगा।
कयर बोर्ड के चेयरमैन प्रो. जी. बालचन्द्रन ने यहां हीरक जयंती के अवसर पर कहा, इस परियोजना से संबंधित मशीनें दिल्ली पहुंचने वाली हैं। कुछ ही महीनों में हम काम शुरू हो जाएगा। 

बालचन्द्रन ने कहा प्रशिक्षण तीन क्षेत्रों में किया जायेगा।  इसमें नारियल रेशे तैयार करना, जिओ टैक्सटाइल तैयार करना और कयर के बुरादे से तैयार लकड़ी से फर्नीचर बनाना शामिल है। इसके लिए हम केरल के अलपुझा स्थित सीसीआरआई ‘केन्द्रीय कयर शोध संस्थान’ से विशेषज्ञ भेजे जा रहे हैं।

कयर बोर्ड अपनी हीरक जयंती मना रहा है। इस अवसर पर दिल्ली में अनेक प्रदर्शनियों का आयोजन किया गया है। राजधानी में हाल ही में संपन्न भारतीय अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में भी कयर उत्पादों का प्रदर्शन किया गया।

दक्षिण एशिया की सबसे बड़ी तिहाड़ जेल जो कि 400 एकड़ में फैला हुआ है, जिसमें 12,000 कैदी हैं। इसमें कैदियों के पुनर्वास के लिये अनेक कार्यक्रम चलाये जाते हैं।  


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You