दिल्ली गैंगरेप: दामिनी के मां-बाप की मांग, नाबालिग को भी हो फांसी

  • दिल्ली गैंगरेप: दामिनी के मां-बाप की मांग, नाबालिग को भी हो फांसी
You Are HereNational
Monday, December 02, 2013-8:54 AM

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में पिछले वर्ष 16 दिसंबर को हुए गैंगरेप और हत्या के मामले में दो दोषियों मुकेश और पवन कुमार गुप्ता को मौत की सजा सुनाई गई है। सूत्रों के अनुसार दिल्ली गैंगरेप केस में पीड़िता के मां-बाप ने नाबालिग आरोपी को भी फांसी की सजा के लिए फिर से सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। पीड़ित लड़की के मां-बाप ने कहा कि इस केस में नाबालिग भी पूरी तरह से दोषी है तो उसे भी वही सजा मिलनी चाहिए जो बाकि दोषियों को मिली है।

 

गौरतलब है कि दामिनी गैंगरेप मामले में 6 आरोपियों में से 4 आरोपियों को फांसी की सजा हुई थी। एक आरोपी ने जेल में खुदकुशी कर ली थी। छठे नाबालिग आरोपी को 3 साल के लिए सुधार गृह भेजा गया।16 दिसंबर 2012 को दिल्ली में चलती बस में दामिनी से  हुआ था। जिस वारदात ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था।

 

सैकड़ों लोग इंसाफ की मांग लेकर सड़कों पर उतर आए थे। जिसके बाद सरकार ने इस मामले की सुनवाई फास्टट्रैक कोर्ट में करवाने का फैसला किया। 4 आरोपियों को तो फांसी की सजा हो चुकी है, लेकिन नाबालिग को बाल सुधार गृह भेजा गया है। जबकि गुनाह में वो भी बराबर का जिम्मेदार था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You