भितरघात न ले डूबे प्रत्याशियों को

  • भितरघात न ले डूबे प्रत्याशियों को
You Are HereNcr
Sunday, December 01, 2013-2:18 PM

वेस्ट दिल्ली (अमित कसाना): जनकपुरी विधानसभा से लगातार जीत दर्ज करते आ रहे भाजपा पार्टी के जगदीश मुखी को पार्टी ने फिर से मैदान में उतारा है। यहां हर बार कांग्रेस ने चुनावों में नए चेहरे को प्रत्याशी बनाया है। इस बार भी यहां कांगेस ने युवा चेहरे पर दांव लगाते हुए डूसू की पूर्व अध्यक्ष रहीं रागिनी नायक को टिकट दिया  है।

जहां मुखी अपने लंबे कार्यकाल में किए गए विकास कार्यों पर चुनाव लड़ रहें है। वहीं, कांग्रेस प्रत्याशी दिल्ली में किए गए शीला दीक्षित सरकार के कार्यों का उल्लेख कर वोट मांग रही हैं। इन सब के बीच आप पार्टी के उम्मीदवार राजेश ऋषि भी खुद को कहीं कम नहीं आंक रहे। भाजपा से  त्रस्त और कांग्रेस की भ्रष्टाचार से भरी नीतियों को बताते हुए वह इस बार लोगों से उलटफेर करने की अपील कर रहे हैं लेकिन फिलहाल सीधा मुकाबला भाजपा व कांग्रेस के बीच ही होता दिखाई पड़ रहा है।

भाजपा के गढ़ वाली इस सीट में कांग्रेस को लगातार पिछडऩा पड़ा है लेकिन इस बार युवा कार्ड खेल कांग्रेस पार्टी यंगिस्तान के सहारे कुछ कर गुजरने का दम भर रही है। उधर, खास बात यह है कि सीट पर भाजपा व कांग्रेस दोनों पार्टियों को भितरघात का सामना करना पड़ रहा है। कुछ लोग मुखी के तख्त को बदलना चाहते हैं तो कुछ कांग्रेस के पुराने कार्यकर्ता नए प्रत्याशी को टिकट देने से नाराज हैं।

विधानसभा के 4 वार्डों की बात करें तो यहां 4 में से 3 वार्डों पर भाजपा का कब्जा है केवल सीतापुरी वार्ड से ही कांग्रेस को विजय का मुंह देखने को मिला था। यही वजह है कि प्रचार के दौरान मुखी जहां अपने द्वारा किए गए कार्यों और अनुभव से इस बार वोट मांग रहे है तो दूसरी ओर रागिनी नायक युवा, बदलाव व विकास की बात कर लोगों को खुद के पक्ष में वोट डालने की अपील कर रही है।

इतिहास : यह विधानसभा शुरूआत से ही सामान्य सीट रही है। जगदीश मुखी 1993 में पहली बार यहां से चुनाव लड़े थे। जिसके बाद लगातार 4 बार जीत चुके हंै।

समस्या: लोगों की मांग पॉश व अनधिकृत कॉलोनियों में गंदे पानी की निकासी के पर्याप्त साधन बनाने की है। जर्जर सीवर लाइनों को बदलने के लिए लोग जनप्रतिनिधियों से लगातार अपनी यह मांग उठाते आए है। उधर, दूसरी बड़ी समस्या जर्जर सड़कों की है। मुख्य मार्गों को छोड़ दें तो कॉलोनियों व गांवों में सड़कें जर्जर हालत में है। जिससे लोग अजीज आ चुके है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You