अहम भूमिका निभाएगी पीस पार्टी

  • अहम भूमिका निभाएगी पीस पार्टी
You Are HereNcr
Sunday, December 01, 2013-2:58 PM

नई दिल्ली (सज्जन चौधरी): बाबरपुर विधानसभा में परिसीमन के बाद से जातिगत राजनीति हावी हो गई है। इस बार यहां ध्रुवीकरण के आधार पर चुनाव होने की उम्मीदें जताई जा रही हैं। भाजपा की ओर से तीन बार के विधायक नरेश गौड़ मैदान में हैं तो कांग्रेस ने मौजूदा पार्षद जाकिर खान को टिकट दिया है।

बाबरपुर विधान सभा में खेल बिगाडऩे के लिए पीस पार्टी भी मैदान में हैं। पीस पार्टी ने फुरकान कुरैशी को टिकट दिया है। इलाके के लोगों में इस बात को लेकर खासा रोष है कि विधायक जी ने सिर्फ हिंदू बाहुल्य इलाकों में कार्य कराए हैं। हालांकि, नरेश गौड़ का कहना है कि उन्होंने पूरे इलाके में समान विकास कार्य कराए हैं, किसी जाति विशेष पर उन्होने कृपा नहीं की है।

परिसीमन लागू होने के बाद बाबरपुर विधान सभा में 50 प्रतिशत वोटर मुस्लिम हो गए हैं। जनता के मूड को देखते हुए यहां के चुनावों में पीस पार्टी की भूमिका बड़ी अहम नजर आ रही है। अगर चुनाव धर्म के आधार पर नहीं होता है तो भाजपा विधायक को हरा पाने कांग्रेस समेत तमाम पार्टियों के लिए मुश्किल होगा।

बाबरपुर की जनता को विधायक जी का आसानी से उपलब्ध न होना भी खलता रहा है। लोगों का कहना है कि बीते 5 सालों में नेताजी के पास जनता से मिलने का समय नहीं रहा है। बहरहाल, इलाके में प्रचार के दौरान जमकर धर्म के आधार पर वोट मांगे जा रहे हैं। जिसे देखते हुए इस बार चुनाव की स्थिति धर्म आधारित दिख रही है। भाजपा विधायक नरेश गौड़ का कहना है कि इलाके में जमकर काम कराया गया है, सभी गलियों में पाईप लाइन डाली गई है, स्कूल खुलवाए गए हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You