ये हैं दिल्ली के पचास हजारी विधायक

  • ये हैं दिल्ली के पचास हजारी विधायक
You Are HereNcr
Monday, December 02, 2013-12:20 PM

नई दिल्ली (सज्जन चौधरी) : दिल्ली विधानसभा में महज 10 प्रतिशत विधायकों को ही 50 हजार से अधिक वोट प्राप्त हुए हैं। इनमें भी दो विधायक ऐसे हैं, जिन्होंने 60 हजार का जादुई आंकड़ा छू कर रिकार्ड बनाया है। 60 हजार का आंकड़ा छूने वालों में भाजपा के कुलवंत राणा और कांग्रेस के सुरेंद्र कुमार शामिल हैं।

वहीं 50 हजार वोट पाने वालों में कांग्रेस के पांच, भाजपा के चार तो एक विधायक बसपा के हैं। देखना होगा कि इस बार चुनावों में भी इन नेताओं का जलवा बरकरार रहता है या नही। 64474 वोट पाकर रिठाला से विधायक कुलवंत राणा दिल्ली में पहले पायदान पर रहे थे। इनके बाद बवाना से कांग्रेस के सुरेंद्र कुमार का नंबर आता है, इन्होंने पिछले चुनावों में 60544 वोट प्राप्त किए थे।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और गांधी नगर से विधायक अरविंदर सिंह लवली का नंबर आता है। इन्होंने पिछले चुनावों में 59795 वोट पाकर 31 हजार से अधिक वोटों के अंतर से जीत हांसिल की थी। पूर्वी दिल्ली से ही विधायक डा. एके वालिया भी दिल्ली के पचास हजारी विधायक हैं। इन्होंने 54 हजार वोट पाकर 22 हजार से अधिक अंतर से वोट प्राप्त कर जीत हांसिल की थी।

पचास हजार वोट पाने में भाजपा नेता भी पीछे नहीं हैं। भाजपा के चार विधायकों ने पचास हजार के आंकड़े को छूआ है। इनमें सबसे ऊपर रोहिणी से लगातार चार बार के विधायक जय भगवान अग्रवाल हैं। इन्हें 55793 वोट मिले थे, और 25774 वोटों के अंतर से जीत हांसिल की थी। हरशरण सिंह बल्ली हरिनगर से लगातार चार बार के विधायक हैं और 51634 वोट पाकर 28759 वोटों के बड़े अंतर से जीत हांसिल की थी।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You