पानी निकाल सकता है आंसू

  • पानी निकाल सकता है आंसू
You Are HereNcr
Monday, December 02, 2013-3:00 PM

नई दिल्ली (निहाल सिंह): वर्ष 2008 के परिसीमन के बाद बनी दक्षिणी दिल्ली की देवली सीट पर पानी कांग्रेस के आंसू निकाल सकता है। पहली बार यहां से विधायक चुनकर आए अरविंदर सिंह जब 2008 के चुनाव में कूदे थे तो उन्होंने क्षेत्र में पानी की पाइपलाइन बिछाकर समस्या दूर करने का वादा किया था लेकिन अभी भी क्षेत्र का बहुत बड़ा हिस्सा पानी के लिए जूझता रहता है।

दिल्ली विधानसभा में सबसे कम प्रत्याशियों वाली सीट में देवली का नाम भी शामिल है। इस सीट पर केवल पांच प्रत्याशी चुनावी मैदान में है। मुख्य लड़ाई इस बार भी कांग्रेस और भाजपा में हो रही है। बसपा और आम आदमी पार्टी के चुनावी मैदान में होने से यहां भाजपा को फायदा मिल सकता है क्योंकि आम आदमी पार्टी के प्रत्याशी प्रकाश तिगरी गांव से संबध रखते हैं और उनको वहां से अच्छा खासा समर्थन मिल रहा है।

ग्रामीण सीट से वोट कटने का घाटा कांग्रेस को होगा तो वही भजपा को वोट बंटने की वजह से फायदा मिलेगा। इसके साथ ही बसपा प्रत्याशी भी यहां की जे.जे. कॉलोनी के स्थानीय निवासी हैं। वो भी वोट काटकर कांग्रेस को नुक्सान पहुंचा सकते हैं लेकिन भाजपा के गगन श्रीलाल को अपने ही लोगों से नुकसान हो सकता है। सूत्रों के मुताबिक भाजपा का एक बड़ा तबका भाजपा प्रत्याशी के विरोध में है। इस क्षेत्र में दलित वोटरों की संख्या के साथ जे.जे. कॉलोनी के निवासियों पर कांग्रेस का अच्छा असर है।

परिसीमन के बाद बनी इस सीट पर वर्ष 2008 में कांग्रेस से अरविंदर सिंह ने जीत दर्ज की थी। समस्या इस क्षेत्र में पानी, सड़क और सीवर की समस्या सबसे अधिक है। पानी की समस्या इतनी है कि टैंकर से पानी भरते समय यहां अक्सर लोगों में लड़ाई झगड़े हो जाते हैं। सड़क की समस्या के साथ यहां के बहुत बड़े इलाके में सीवर भी नहीं है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You