मोदी लोकतंत्र के लिए दाग, आतंकी सलाउद्दीन स्वतंत्रता सेनानी: गिलानी

  • मोदी लोकतंत्र के लिए दाग, आतंकी सलाउद्दीन स्वतंत्रता सेनानी: गिलानी
You Are HereNational
Monday, December 02, 2013-3:00 PM

श्रीनगर: कट्टरपंथी हुर्रियत कांफ्रेंस के अध्यक्ष सैयद अली शाह गिलानी ने कहा है कि भाजपा का प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के लिए नरेंद्र मोदी को चुनना देश के लोकतंत्र और धर्मनिरपेक्षता पर ‘दाग’ है। गिलानी ने दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में कल एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘गुजरात में 2002 में जो कुछ भी हुआ वह उनके (मोदी के) आदेश और निर्देशों पर ही हुआ।’’
 
उन्होंने कहा, ‘‘ वह बीमार दिमाग वाले शख्स हैं और जम्मू-कश्मीर में साम्प्रदायिक आग भड़काने की कोशिश कर रहे हैं। उनका राज्य का दौरा करना शांति को खतरा है।’’गिलानी ने यूनाइटेड जेहाद कौंसिल (यूजेसी) के प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन को एक घोषित अपराधी करार देने के दिल्ली की एक अदालत के आदेश की निंदा करते हुए कहा कि वह एक मकसद के लिए संघर्ष कर रहा है और वह एक आतंकवादी नहीं है। हुर्रियत के एक प्रवक्ता ने गिलानी के हवाले से कहा, ‘‘ सलाहुद्दीन जैसे लोग आतंकवादी नहीं है  बल्कि वे स्वतंत्रता सेनानी हैं जो एक पवित्र मकसद के लिए लड़ रहे हैं उन्हें घोषित अपराधी करार देना  न्यायसंगत नहीं है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You