कांग्रेस-भाजपा का खेल बिगाड़ेगी बसपा

  • कांग्रेस-भाजपा का खेल बिगाड़ेगी बसपा
You Are HereNational
Monday, December 02, 2013-3:17 PM

नई दिल्ली (सज्जन चौधरी): 2008 विधानसभा चुनावों में परिसीमन के बाद वजूद में आई मुस्तफाबाद सीट पर कांग्रेस के विधायक हसन अहमद ने कब्जा किया। इससे पहले यह इलाका करावल नगर विधानसभा में आता था। इलाके के लोगों में कांगे्रस के बाहरी विधायक हसन अहमद के प्रति खासा रोष है। इलाके में मुख्य मुद्दे आज भी सीवर और पानी की पाइप लाइन ही हैं।

पूरे विधानसभा में निगम विद्यालयों समेत सीनियर सैकेंडरी विद्यालयों की हालत बेहद खस्ता है। यहां से कांग्रेस हसन अहमद के सामने पूर्व कांग्रेसी पार्षद जगदीश प्रधान भाजपा के टिकट से चुनावी मैदान में हैं। मुस्तफाबाद विधानसभा मुस्लिम बाहुल्य इलाका है।

कांग्रेस से अलग दो और पार्टियों ने यहां से मुस्लिम प्रत्याशियों को मैदान में उतारा है। बहुजन समाज पार्टी से शेर खान तो पीस पार्टी से मास्टर शेर मौहम्मद। पिछले चुनावों में बसपा के शेर खान ने 14 हजार से अधिक वोट लेकर दोनों पार्टियों का खेल लगभग बिगाड़ ही दिया था।

यहां से विजेता उम्मीदवार हसन अहमद की जीत का अंतर महत 979 वोट था। ऐसे में इस बार भी इस सीट के समीकरण देखने लायक होंगे। विधानसभा के कई इलाकों में हिंदू जनसंख्या भी ठीक-ठाक है। ऐसे में पिछली बार की तरह इस बार भी चुनावों में कड़ा मुकाबला देखने को मिल सकता है।

विधानसभा में जातिगत राजनीति से इतर यहां विकास भी एक बड़ा मुद्दा है। पिछले 5 सालों से विधानसभा के कई इलाके ऐसे हैं जहां आज तक पीने का पानी नहीं आता है। सीवर लाइन डालने के वादे नेता जी कई बार कर चुके हैं लेकिन आज भी बारिश के दिनों में लोगों के घरों में पानी भर रहा है। नेता जी ने शमशान घाट बनवाने पर तो जोर दिया है, लेकिन स्कूलों के नाम पर पिछले पांच साल में यहां कुछ नहीं हुआ।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You