गुजरात पर भारी दिल्ली मॉडल

  • गुजरात पर भारी दिल्ली मॉडल
You Are HereNcr
Tuesday, December 03, 2013-2:50 PM

नई दिल्ली (ताहिर सिद्दीकी): गुजरात मॉडल के सुहावने सपने का चुनाव के अंतिम पड़ाव पर पोल खुल गया है। दिल्ली मॉडल के मुकाबले गुजरात मॉडल को बेहतर बताने की सच्चाई उजागर हो गई है। कांग्रेस की गुजरात इकाई से बिजली की दरों के अलावा अन्य क्षेत्रों में गुजरात की स्थिति का आकलन करने के लिए मंगाए गए दस्तावेज अलग ही कहानी बयां कर रहे हैं।

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी और वरिष्ठ भाजपा नेता चुनावी रैलियों में अपने लच्छेदार भाषणों से गुजरात मॉडल को देश और प्रदेशों के लिए सर्वाधिक उपयोगी बताने में लगे हुए थे। सूत्रों के मुताबिक ऐसे में मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की पहल पर पब्लिक को सच्चाई का आइना दिखाने के लिए गुजरात की कांग्रेस इकाई से दस्तावेजी सबूत मंगाए गए। गुजरात के मुख्यमंत्री ने दिल्ली में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए दावा किया था कि दिल्ली के मुकाबले गुजरात में बिजली की दरें बेहद सस्ती है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You