चुनाव को लेकर किसी प्रकार की घबराहट नहीं: शीला दीक्षित

  • चुनाव को लेकर किसी प्रकार की घबराहट नहीं: शीला दीक्षित
You Are HereNational
Wednesday, December 04, 2013-5:37 PM

नई दिल्ली: अपने राजनैतिक करियर के सबसे कठिन मुकाबले का सामने करने वाली और दिल्ली की तीन बार बनने वाली मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने आज कहा कि वह चुनाव परिणाम का इंतजार कर रही हैं। इस सीट पर कांग्रेस, भाजपा के साथ आम आदमी पार्टी ने मुकाबले को त्रिकोणीय बना दिया है। शीला ने कहा कि वह चुनाव परिणाम का इंतजार कर रही हैं। उन्होंने कहा जिसने काम किया है और जिसने दिल्ली को रफ्तार दी है उसे वोट करें।

जब फोटोग्राफरों ने उनके आवास पर विजय चिन्ह प्रदर्शित करने को कहा तब उन्होंने ऐसा करने से इंकार कर दिया। यह पूछे जाने पर कि क्या वह आप के संभावित प्रभाव से चिंतित हैं, शीला ने कहा,  75 वर्षीय शीला के नेतृत्व में कांग्रेस ने लगातार तीन बार दिल्ली विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की। उन्होंने कहा कि सरकार ने पिछले 15 वर्षो के दौरान समावेशी विकास सुनिश्चित करने का काम किया है और उम्मीद जतायी कि लोग उन्हें एक बार और सेवा का मौका देंगे। शीला ने कहा,  मैं चुनाव पूरे विश्वास के साथ लड़ रही हूं। हमने सतत विकास सुनिश्चित की है। हमने समावेशी विकास के एजेंडे का अनुसरण किया है। हमने दिल्ली को सर्वश्रेष्ठ शहर बनाया है।

शीला ने कहा, ‘‘ विपक्ष बड़े बड़े दावे कर रहा है और हमें बदनाम करने की कोशिश कर रहा है । लेकिन दिल्ली के लोग हमारे कामकाज के बारे में जानते हैं । मेरा मानना है कि वे इस बात पर विचार करते हुए वोट डालेंगे कि उनके लिए क्या अच्छा है।’’राजनीतिक पटल पर अरविंद केजरीवाल के आने से चुनावी मुकाबले का स्वरूप बदल गया है और यह देखना महत्वपूर्ण होगा कि यह नयी पार्टी चुनावी रंग खराब करने वाली होगी या कुछ सीट जीत भी सकेगी जैसा कि कुछ चुनानी विश्लेषकों ने भविष्यवाणी की है।  शीला दीक्षित पिछले 15 वर्षो से इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रही हैं और उनके विकास के मॉडल को क्षेत्र में कड़ी परीक्षा का सामना करना पड़ रहा है जहां के 1.18 लाख मतदाताओं में 60 प्रतिशत सरकारी कर्मचारी और उनके परिवार के सदस्य हैं।

दीक्षित ने कहा है कि चुनाव को लेकर उन्हें किसी प्रकार की घबराहट नहीं है और उनकी पार्टी ने पूरे आत्मविश्वास के साथ विधानसभा का चुनाव लडा है। श्रीमती दीक्षित ने आज वोट डालने से पहले संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस ने पूरे आत्मविश्वास के साथ विधानसभा का चुनाव लडा है। यह पूछने पर कि चुनाव को लेकर वह किसी प्रकार से नर्वस है. श्रीमती दीक्षित ने कहा कि हम आत्मविश्वास के साथ चुनाव मैदान में उतरे और चुनाव को लेकर बिल्कुल भी घबराहट नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली का निरंतर और समावेशी विकास हुआ है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने दिल्ली के विकास के लिये लगातार काम किया है। विरोधी दलों के भ्रष्टाचार पर श्रीमती दीक्षित ने कहा कि सब झूठ है। इस बार के चुनाव में वोट प्रतिशत बढने की उम्मीद जताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि दूसरे राज्यों के चुनाव में मतदान का प्रतिशत अधिक रहा है और यह लोकतंत्र में जनता के प्रति बढते विश्वास का प्रतीक है।
 
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You