नारायण साईं को एक दिन की ट्रांजिट रिमांड पर गुजरात पुलिस को सोंपा

  • नारायण साईं को एक दिन की ट्रांजिट रिमांड पर गुजरात पुलिस को सोंपा
You Are HereNational
Thursday, December 05, 2013-1:11 AM

नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने स्वयंभू संत आसाराम के बेटे नारायण साईं को बुधवार को गुजरात पुलिस को एक दिन के लिए ट्रांजिट रिमांड पर सौंप दिया। नारायण के खिलाफ सूरत में दुष्कर्म का एक मामला दर्ज है। महानगर दंडाधिकारी धीरज मोर ने ट्रांजिट रिमांड जारी की। गुजरात पुलिस ने यह कहते हुए ट्रांजिट रिमांड की मांग की कि नारायण साईं को सूरत की अदालत में पेश करना है, जहां से उसकी गिरफ्तारी के लिए गैर जमानती वारंट जारी हुआ है।

सूरत में यौन उत्पीडऩ के मामले में गिरफ्तारी से बचकर भाग रहे नारायण साईं को दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने दबोच लिया है। नारायण साईं आसाराम का बेटा है।  पुलिस ने जब साईं को पकड़ा तब वह सिखों की वेशभूषा में था। पुलिस से बचने के लिए उसने यह वेशभूषा धारण की हुई थी।

गौरतलब है कि सूरत में यौन उत्पीडऩ के मामले में गिरफ्तारी से बचकर भाग रहे नारायण साईं को दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने दबोच लिया है। नारायण साईं आसाराम का बेटा है। पुलिस ने जब साईं को पकड़ा तब वह सिखों की वेशभूषा में था। पुलिस से बचने के लिए उसने यह वेशभूषा धारण की हुई थी।

नारायण 30 वर्षीया एक महिला द्वारा दायर कराई गई शिकायत के बाद से फरार था। महिला ने आरोप लगाया है कि स्वयं को भगवान कृष्ण का अवतार बताने वाले नारायण ने 2001 और 2005 के बीच उसके साथ दुष्कर्म किया था। नारायण को दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा की टीम ने हरियाणा के कुरुक्षेत्र के पास पीपली गांव से मंगलवार रात गिरफ्तार किया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You