विमानन कंपनी को फोन करके अफवाह फैलाने वाले व्यक्ति को सजा

  • विमानन कंपनी को फोन करके अफवाह फैलाने वाले व्यक्ति को सजा
You Are HereNational
Thursday, December 05, 2013-2:12 PM

नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने एक निजी विमानन कंपनी को फोन करके अफवाह फैलाने के एक मामले में 60 वर्षीय एक व्यक्ति को अदालत के उठने तक कारावास की सजा सुनाई है। व्यक्ति ने 2010 में इंडिगो एयरलाइंस को फोन करके कहा था कि कुछ आतंकवादी विमान में सवार हो गए हैं और उनके पास विस्फोटक हो सकते हैं।

मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट जगमिंदर सिंह ने राज बजाज के अपना अपराध स्वीकार कर लेने पर उसे दोषी ठहराया और उसे अदालत के उठने तक कारावास की सजा के अलावा 1000 रपए जुर्माना भी लगाया। उसे भारतीय दंड संहिता की धारा 182 और सूचना एवं तकनीक कानून की धारा 66 ए के तहत दोषी ठहराया गया है।

अदालत ने इस बात पर भी गौर किया कि व्यक्ति ने शिकायतकर्ता एवं इंडिगो एयरलाइंस के सुरक्षा प्रबंधक नीलेश मादुरवर और दिल्ली सरकार को क्रमश: 3,000 और 25,000 रपए मुआवजा दिया है।

अदालत ने अपराध की प्रकृति, तथ्यों, मौजूदा मामले की परिस्थितियों, अपराधी की आर्थिक, सामाजिक एवं पारिवारिक पृष्ठभूमि और उसकी बीमारी के साथ साथ इस बात को भी ध्यान में रखा कि दोषी ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है, उसने शिकायतकर्ता को मुआवजा दिया है और माफी भी मांगी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You