विहिप नेता की हत्या, कस्बा एक बार फिर बनी छावनी

  • विहिप नेता की हत्या, कस्बा एक बार फिर बनी छावनी
You Are HereNational
Thursday, December 05, 2013-1:28 PM

अम्बेडकरनगर: उत्तर प्रदेश में अम्बेडकरनगर जिले के टाण्डा कस्बे में कल देर रात विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) नेता राममनोहर गुप्ता की हत्या के बाद तनाव पैदा हो गया है। इससे पहले गत जुलाई में राममनोहर के चाचा और विहिप नेता रामबाबू गुप्ता की हत्या कर दी गई थी। इनके परिजनों ने हत्या के पीछे समाजवादी पार्टी के स्थानीय विधायक अजीमुल हक उर्फ पहलवान का हाथ बताया है। रामबाबू की हत्या के बाद कस्बे में कफ्र्यू लगाना पड़ा था। तनाव के मद्देनजर पूरे कस्बे को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सक्सेना ने यूनीवार्ता को बताया कि स्थानीय पुलिस की मदद के लिए चार कंपनी पीएसी एक कंपनी रैपिड ऐक्शन फोर्स साठ पुलिस उपनिरीक्षक और तीन सौ सिपाहियों की तैनाती की गई है। स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है।

उन्होंने बताया कि रिपोर्ट लिखे जाने के लिए अभी तहरीर नहीं मिली है इसलिए वह यह बता नहीं सकते कि स्थानीय विधायक को नामजद किया गया है या नहीं। सक्सेना ने बताया कि राममनोहर की मोटरसाइकिल सवार दो युवकों ने ताबडतोड़ गोली मारकर हत्या कर दी। उनकी मौके पर ही मृत्यु हो गई। इसके बाद परिजनों ने शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। रात भर कस्बे में अफवाहों का बाजार गर्म था। कस्बे में शांति बनाये रखने के लिए फैजाबाद मण्डल के आयुक्त संजय प्रसाद, पुलिस उपमहानिरीक्षक बी.डी.पाल्सन को भी भेजा गया है। कस्बे में गश्त तेज कर दी गई है।

इस बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने हत्या की निंदा करते हुए हत्यारों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है। भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता विजय बहादुर पाठक ने कहा कि एक परिवार में एक वर्ष में दो-दो हत्याएं हो जाना चिन्ता का विषय है। पाठक ने कहा कि रामबाबू की हत्या के बाद परिवार ने सुरक्षा और सरकारी मदद की मांग की थी लेकिन इन्हें सुरक्षा नहीं दी गई। उन्होंने बताया कि टाण्डा में आज हत्या के विरोध में बंद की घोषणा की गई है। बंद के दौरान शांति बनाये रखने की अपील की गई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You