शिवसेना-भाजपा ने कहा, ‘विक्रांत’ के रखरखाव सरकार नाकाम

  • शिवसेना-भाजपा ने कहा, ‘विक्रांत’ के रखरखाव सरकार नाकाम
You Are HereNational
Thursday, December 05, 2013-4:08 PM

मुंबई: विपक्षी शिवसेना और भाजपा ने केन्द्र और राज्य की कांग्रेस नीत सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि सैन्य तैनाती से हटाए गए विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत का रखरखाव करने में दोनों सरकारें नाकाम रहीं। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘इससे पहले पोत को समुद्री अजायबघर में बदलने में सिर्फ 75 करोड़ रूपये चाहिए थे। लेकिन सरकार इसके लिए कोई प्रावधान नहीं कर सकी।’

ठाकरे ने शिवसेना मुखपत्र ‘सामना’ में अपने संपादकीय में कहा, ‘अगर महाराष्ट्र के राजनीतिज्ञ कोई ‘भ्रष्टाचार मुक्त दिवस’ मनाते हैं तो इससे 1000 करोड़ रूपये की बचत हो सकती है। राज्य के अनेक राजनीतिक दिग्गज कम से कम 5000 करोड़ रूपये मूल्य के हैं।’  भाजपा नेता किरिट सोमैया ने पोत के रखरखाव करने से राज्य सरकार के इनकार के बाद केन्द्र सरकार पर आईएनएस विक्रांत की नीलामी के लिए कदम बढ़ाने का आरोप लगाया। सोमैया ने कहा कि लोकसभा में भाजपा के उपनेता गोपीनाथ मुंडे रक्षा मंत्री ए. के. एंटनी से मुलाकात करेंगे और उनसे आईएनएस विक्रांत की नीलामी रोकने का आग्रह करेंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You