आजम द्वारा किले के द्वार तोड़ जाने पर रोक की मांग

  • आजम द्वारा किले के द्वार तोड़ जाने पर रोक की मांग
You Are HereNational
Thursday, December 05, 2013-4:35 PM

लखनऊ:  उत्तर प्रदेश कांग्रेस के विधायक नवाब काजिम अली खां उर्फ नवेद मियां ने राज्यपाल बी.एल. जोशी से मांग की है कि प्रदेश के कैबिनेट मंत्री मो. आजम खां द्वारा रामपुर के ऐतिहासिक किले के द्वारों को तोडे जाने के आदेश पर तुरन्त रोक लगार्इ जाए।  खां ने राज्यपाल को भेजे गए पत्र में कहा है कि मंत्री ने रामपुंर के ऐतिहासिक किले के द्वारों को तोडे जाने की इच्छा जतायी और यह पत्र ही जिलाधिकारी रामपुर के लिए एक आदेश है जिसपर जिलाधिकारी ने इस दिशा में कार्यवाही आरम्भ कर दी है। रियासतकालीन सदियों पुरानी धरोहर इस किले के द्वारों को तोडे़ जाने के लिए लोक निर्माण विभाग से झूठी रिपोर्ट तैयार करायी जा रही है।
  
उन्होंने कहा कि किले के द्वार बहुत मजबूत स्थिति में हैं और यह द्वार टूटने से पूरे किले का अस्तित्व ही समाप्त हो जायेगा। किला रामपुर की शॉन है और इससे जनता की भावनायें जुडी हुई हैं। इस  किले के अन्दर विश्वविख्यात रामपुर रजा लाइब्रेरी और गल्र्स डिग्री कालेज समेत कई शिक्षण संस्थायें एवं सरकारी कार्यालय हैं।
  
उन्होंने कहा कि द्वार तोडे़ जाने से इन संस्थाओं के समक्ष असुरक्षा की स्थिति उत्पन्न हो जायेगी इसलिए ऐतिहासिक किले के द्वारों को तोडे़ जाने की प्रक्रिया तुरन्त रोके जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि उन्होंने इस मामले में अदालत की भी शरण ली है और उम्मीद है कि इस तोड़फोड़ के विरोध में उन्हें जल्दी ही स्थगनादेश प्राप्त हो जाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You