तेजपाल के मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक अदालत में की जाएगी : पार्रिकर

  • तेजपाल के मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक अदालत में की जाएगी : पार्रिकर
You Are HereNational
Thursday, December 05, 2013-4:50 PM

नई दिल्ली: गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पार्रिकर ने आज कहा कि सहकर्मी के यौन उत्पीड़ऩ़ के आरोपी तहलका पत्रिका के संपादक तरूण तेजपाल के मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक अदालत में एक महिला न्यायाधीश द्वारा की जाएगी। आज तक एजेंडा में एक सवाल के जवाब में पार्रिकर ने कहा ‘‘तेजपाल के मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक अदालत में एक महिला न्यायाधीश द्वारा की जाएगी।

हम उच्चतम न्यायालय के दिशानिर्देशों का पालन करेंगे।’’ उन्होंने कहा ‘‘न्याय मिलने में अगर विलंब हो तो वह अर्थहीन हो जाता है इसलिए सभी मामलों में शीघ्र न्याय दिया जाना चाहिए।’’ पार्रिकर ने यह भी कहा कि राज्य में लंबित मामलों की संख्या बहुत कम है। सहकर्मी का पिछले माह यौन उत्पीड़ऩ़ करने के आरोप में तेजपाल गोवा पुलिस की हिरासत में हैं।

उन्होंने कहा कि तेजपाल के स्टिंग ऑपरेशनों से भाजपा प्रभावित हुई थी लेकिन फिर भी तेजपाल के साथ ‘‘गलत तरीके से’’ सलूक नहीं किया जाएगा। गोवा के मुख्यमंत्री से पूछा गया कि उन्होंने मीडिया के समक्ष यह क्यों कहा कि जांच ईमानदारी से और बिना किसी हस्तक्षेप के की जाएगी। इस पर उन्होंने कहा कि वह तो सिर्फ मीडिया के सवालों का जवाब दे रहे थे। पार्रिकर ने कहा ‘‘यह आपराधिक जांच का मामला है। आपराधिक जांच में हस्तक्षेप करना मेरी आदत नहीं है।’’

  उन्होंने कहा ‘‘मैं देखूंगा कि लड़की को न्याय मिले। किसी को यह नहीं सोचना चाहिए कि सिर्फ पृष्ठभूमि की वजह से ही तेजपाल के साथ अलग तरीके का या गलत तरीके से सलूक किया जाएगा।’’  तेजपाल के स्टिंग ऑपरेशन की वजह से तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष बंगारू लक्ष्मण को इस्तीफा देना पड़ा था।

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You