महिला आरक्षण विधेयक पर सभी दल सहयोग करें : मनमोहन

  • महिला आरक्षण विधेयक पर सभी दल सहयोग करें : मनमोहन
You Are HereNational
Friday, December 06, 2013-6:56 AM

नई दिल्ली: नरेन्द्र मोदी की ओर से साम्प्रदायिक एवं लक्षित हिंसा निरोधक विधेयक को ‘विनाश का नुस्खा’ करार दिए जाने के बीच प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने आज कहा कि सरकार उन सभी मुद्दों पर व्यापक आम सहमति बनाने का प्रयास करेगी जिनका विधायी महत्व काफी अधिक है। महिला आरक्षण विधेयक पर सभी दल सहयोग दें। 

सिंह ने कहा कि सरकार विधेयकों को सुगमता से पारित कराना सुनिश्चित करने के लिए संसद के सभी वर्गों का सहयोग चाहती है।  भाजपा ने जहां साम्प्रदायिक एवं लक्षित हिंसा निरोधक विधेयक पर गंभीर आपत्ति व्यक्त की है वहीं समाजवादी पार्टी ने महिला आरक्षण जैसे विवादास्पद विधेयक लाने पर संसद का कामकाज बाधित करने की धमकी दी है।

प्रधानमंत्री ने संसद भवन परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमारा प्रयास होगा कि विधायी महत्व के विषयों पर व्यापक आम सहमति बनाई जाए।’’ भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी की ओर से साम्प्रदायिक एवं लक्षित हिंसा निरोधक विधेयक का विरोध किए जाने के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने यह बात कही। प्रधानमंत्री के बयान के बाद गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे ने भी संवाददाताओं से कहा कि सरकार विधेयक पर आम सहमति बनाने का प्रयास करेगी।

यह पूछे जाने पर कि क्या महिला आरक्षण विधेयक लोकसभा में लाया जाएगा, प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘जिन विधेयकों को संसद में चर्चा के लिए लाया जाएगा उनके बारे में हम आम सहमति बनाएंगे और विधेयकों के सुगमता से पारित होना सुनिश्चित करने के लिए सदन के सभी वर्गों का सहयोग चाहते हैं।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You