मोदी पर टिप्पणी मामले में लेखिका पर एफ.आई.आर.

  • मोदी पर टिप्पणी मामले में लेखिका पर एफ.आई.आर.
You Are HereNcr
Friday, December 06, 2013-11:56 AM

नई दिल्ली (अभिषेक आनन्द): दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने स्वीकार किया है कि फेमिनिस्ट इस्लामिक राइटर शीबा असलम फहमी के खिलाफ एफ.आई.आर. दर्ज कर ली गई है। लेकिन उन्होंने जानकारी नाम नहीं छापने की शर्त पर दी।

उन्होंने कहा कि कुछ मामले संवेदनशील होते हैं और उस पर हम पब्लिक फोरम में कुछ नहीं कहेंगे। जामा मस्जिद पुलिस स्टेशन में कोर्ट के एक आदेश के बाद एफ.आई.आर. दर्ज की गई है। खबरों के मुताबिक नरेंद्र मोदी को लेकर लिखे कुछ फेसबुक पोस्ट के आधार पर कोर्ट ने एफ.आई.आर. दर्ज करने का आदेश दिया है।

दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि  एफ.आई.आर. के बाद पुलिस जिस तरह काम करती है, उसी तरह आगे की कार्रवाई की जाएगी। हालांकि जामा मस्जिद पुलिस के अधिकारी कुछ भी कहने से बच रहे हैं। सुभाष नाम के पुलिस अधिकारी ने कहा कि एफआईआर नहीं हुई है।

शीबा ने अपने फेसबुक पोस्ट में गुजरात में 2002 में हुए दंगे और निर्दोष मुसलमानों की मौत के लिए नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार बताया था। सोशल साइट्स पर इस बात की चर्चा पहले से है कि पुलिस उन्हें किसी भी वक्त गिरफ्तार कर सकती है। शीबा को पुलिस की गिरफ्तारी के रोकने के लिए साइट्स पर अभियान भी शुरू हो गया है।

एशियन ह्यूमन राइट कमिशन ने शीबा के समर्थन में एक अपील पत्र जारी किया है और लोगों से समर्थन की मांग की है। शीबा असलम फहमी का कहना है कि कुछ दिनों पहले उन्हें ईमेल पर धमकी मिली थी। जिसे साइबर सेल को उन्होंने भेज दिया। इसके बाद उन्हें पता चला कि कोर्ट ने धमकी देने वाले व्यक्ति को बरी कर दिया और उल्टे उन्हीं पर किसी फेसबुक पोस्ट के आधार पर मामला दर्ज करने को कहा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You