मेरे पाप की सजा मेरे परिवार को क्यों : खेमका

  • मेरे पाप की सजा मेरे परिवार को क्यों : खेमका
You Are HereNational
Saturday, December 07, 2013-8:58 AM

नई दिल्ली: हरियाणा सरकार की तरफ से नई चार्जशीट मिलने के बाद अशोक खेमका ने राज्य के मुख्य सचिव पी.के.चौधरी को चिट्ठी लिखी है जिसमें आरोप लगाया गया है कि उन्हें जानबूझकर परेशान किया जा रहा है। चिट्ठी में खेमका ने प्रशासन के रवैये पर आपत्ति जाहिर करते हुए लिखा है कि मेरे पाप की सजा मेरे परिवार को क्यों दी जा रही है?

खेमका के मुताबिक चार्जशीट की चिट्ठी जब उनके घर पर भेजी गई तब वह चंडीगढ़ से बाहर थे। इसके बावजूद 4 दिसम्बर रात 8.30 बजे उनके नाबालिग बच्चे को यह चार्जशीट थमा दी गई। जब मेरे 16 साल और 11 महीने के बेटे ने यह कहा कि मैं घर पर नहीं हूं, तो उसने मेरे बेटे पर लिफाफा लेने के लिए दबाव बनाया, यह भी कहा कि ऐसा न करने पर यह लिख दिया जाएगा कि लिफाफा लेने से मना कर दिया गया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You