‘मोदी की वजह से बढ़ रहा है भाजपा का लगातार ग्राफ’

  • ‘मोदी की वजह से बढ़ रहा है भाजपा का लगातार ग्राफ’
You Are HereNational
Sunday, December 08, 2013-4:32 PM

लखनऊ: चार राज्यों के आज आये चुनाव परिणामों को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने जहां इसे नरेंद्र मोदी का जादू बताया है वहीं गैर भाजपाइयों ने इसे काग्रेंस की जनविरोधी नीतियों का परिणाम कहा है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकान्त बाजपेयी ने कहा कि मध्यप्रदेश समेत अन्य भाजपा शासित राज्यों में वहां की सरकार बेहतर काम कर रही थी उसमें गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी का जादू और काम कर गया। मोदी की वजह से भाजपा का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है और आगामी लोकसभा चुनाव में पार्टी का परचम लोकसभा में लहरायेगा। उन्होने कहा कि जनता कांग्रेस की नीतियों से त्रस्त थी। महंगाई और भष्टाचार चरम पर था इसलिए जनता ने काग्रेंस को सिरे से नकार दिया। उन्होंने दावा किया कि इन राज्यों के परिणाम लोकसभा चुनाव पर भी पडेंगे। सेमीफाइनल जीता है, फाइनल भी जीतेंगे। समाजवादी पार्टी (सपा) ने कहा कि चुनाव परिणाम कांग्रेस की जनविरोधी नीतियों की देन है। कांग्रेस साम्प्रदायिक ताकतों को रोकने में विफल रही है।

राज्य के कारागार मंत्री और सपा प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि महंगाई भ्रष्टाचार और कुशासन के साथ ही साम्प्रदायिक ताकतों को बढावा देने के कारण ही चारों राज्यों के चुनाव परिणाम आशा के विपरीत आए हैं उन्होंने दावा किया कि लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी का कोई प्रभाव नहीं पडग़ा क्योंकि राज्यों के चुनाव परिणामों से संकेत मिलता है कि तीसरी ताकत ही देश को बचाने और चलाने में सफल होगी। चौधरी ने कहा कि कांग्रेस ने धर्मनिरपेक्षता पर सही ढंग से नहीं चली इसलिए उसे यह परिणाम भुगतना पड़ा है। राजनीतिक संकेतों के मुताबिक तीसरी ताकत के उभरने की संभावना है, लेकिन उन्होंने आम आदमी पार्टी (आप) को तीसरी ताकत का हिस्सा मानने से इनकार किया। उन्होंने कहा कि अरविन्द केजरीवाल और उनकी पार्टी आप को दिल्ली में जनता की कांग्रेस और भाजपा के प्रति नाराजगी की देन है।

आप लम्बी रेस का घोडा नहीं हो सकता इसलिए उसे तीसरी ताकत के रुप में देखना उचित नहीं है। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) महासचिव और विधान परिषद में नेता विरोधी दल नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि अभी चुनाव परिणामों की समीक्षा की जा रही है। प्रारम्भिक जानकारी के मुताबिक चारों राज्यों में उनकी पार्टी का वोट प्रतिशत बढा है लेकिन इसपर अन्तिम प्रतिक्रिया पार्टी अध्यक्ष मायावती ही देंग। उन्होंने लोकसभा चुनाव में मोदी का प्रभाव पडऩे से इंकार किया और कहा कि विधानसभा के चुनाव परिणाम बहुत कुछ स्थानीय मुद्दों पर निर्भर करते हैं। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष निर्मल खत्री ने तत्काल टिप्पणी करने से मना कर दिया जबकि कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता अमरनाथ अग्रवाल ने कहा कि चुनाव परिणामों की समीक्षा की जायेगी लेकिन उन्होंने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का लोकसभा चुनाव में असर की संभावना से इंकार किया।


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You