स्वाभाविक बहुमत मिला तो सरकार बनाएंगे: गडकरी

  • स्वाभाविक बहुमत मिला तो सरकार बनाएंगे: गडकरी
You Are HereNational
Monday, December 09, 2013-2:51 PM

नर्इ दिल्ली: दिल्ली विधानसभा में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आज अपने रख में बदलाव करते हुए कहा है कि यदि उसे 'स्वाभाविक तौर से बहुमत' मिलता है तो वह सरकार बनाकर लोगों की सेवा करना चाहती है। भाजपा के दिल्ली प्रभारी नितिन गडकरी ने आज कहा कि पार्टी चाहती है कि दिल्ली में फिर से चुनाव न करने पडे़ तथा उसका खर्च लोगों पर नहीं आए। उन्होंने कहा कि पार्टी को यदि स्वाभाविक तौर से बहुमत मिलता है तो वह सरकार बनायेगी।  हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि वह किस तरह के बहुमत की बात कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि बहुमत नहीं मिला तो हम विपक्ष में बैठकर दिल्ली की जनता की सेवा करेंगे जैसा पहले से करते आ रहे हैं। उल्लेखनीय हे कि विधानसभा के परिणाम आने के बाद भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हर्षवर्धन ने कल शाम कहा था कि पार्टी के पास पर्याप्त संख्या नहीं है। इसलिए वह सरकार बनाने का दावा पेश नहीं करेंगे। सत्तर सदस्यीयविधान सभा में भाजपा को 31 तथा उसकी सहयोगी अकाली दल को एक सीट मिली है जबकि सरकार बनाने के लिए 36 विधायकों का समर्थन जरुरी है।  आम आदमी पार्टी को 28 तथा कांग्रेस को छह सीटें मिली हैं।

 गडकरी ने कहा कि हम चाहते हैं कि दिल्ली में डा. हर्षवर्धन के नेतृत्व में सरकार बने और लोगों के काम हों लेकिन दिल्ली की जनता ने जिस तरह का मतादेश दिया है उसमें सरकार बनाना मुश्किल है।  यह पूछे जाने पर कि क्या दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग के सरकार बनाने का निमंत्रण मिलने पर पार्टी ऐसा करने से इंकार कर देगी. उन्होंने कहा कि उपराज्यपाल ने अभी तक कोई पहल नहीं की है। क्या पार्टी दिल्ली में दोबारा चुनाव को तैयार है इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि यह हमारे हाथ में नहीं है । उपराज्यपाल जो फैसला करेंगे लोकतंत्र में हम उसका आदर करेंगे।

भाजपा नेता ने कहा कि हमें स्पष्ट बहुमत मिलने की उम्मीद थी लेकिन दिल्ली की जनता ने हमें बहुमत से कम पर रोक दिया। जनता हमारी मां बाप है उसका फैसला हमें स्वीकार है।  पार्टी को जो भी भूमिका मिलती वह उसको निभाने के लिये तैयार है। हर्षवर्धन कहा  कि दिल्ली की जनता ने हम पर विश्वास व्यक्त किया है लेकिन उसमें कुछ कमी रह गयी है। उन्होंने कहा कि सरकार बनाने के लिए हम न तो जोड़ तोड करेंगे और न किसी के आगे गुहार  करेंगे।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You