केजरीवाल अपने बात पर कायम, नहीं देंगे किसी पार्टी को समर्थन

  • केजरीवाल अपने बात पर कायम, नहीं देंगे किसी पार्टी को समर्थन
You Are HereNational
Tuesday, December 10, 2013-1:27 PM

नई दिल्ली:  दिल्ली में सरकार बनाने को लेकर गतिरोध अब भी बना हुआ है। दिल्ली में सबसे बड़े दल के रूप में उभरी भाजपा और दूसरे स्थान पर रही आम आदमी पार्टी (आप) दोनों ने सरकार बनाने का दावा करने से इनकार किया है। उनका कहना है कि स्थिर सरकार देने के लिए उनके पास बहुमत नहीं है।

‘आप’ के मुखिया अरविंद केजरीवाल अपने बात पर कायम हैं की उन्होने कहा कि ना तो हम किसी को समर्थन देंगे और ना ही किसी से समर्थन लेंगे। केजरीवाल के निवास पर हुई शीर्ष नेताओं की बैठक के बाद कहा कि हमारी पार्टी सरकार बनाने के लिए दावा नहीं करेगी और एक रचनात्मक विपक्ष की भूमिका निभाएगी।

उन्होने कहा कि भाजपा और कांग्रेस दोनों ही भ्रष्टाचार में लिप्त है इसलिए हम इन दोनों पार्टी में से किसी का समर्थन नहीं करेंगे। केजरीवाल ने दूसरी पार्टी के नेताओं से अपील की है कि, जो नेता अपनी पार्टी में घुटन महसूस कर रहे हैं, वो विद्रोह करे।

वहीं आम आदमी पार्टी के नेता और वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने समाचार चैनल एनडीटीवी से कहा, अगर भाजपा ये हमें लिखकर दे कि वो 29 दिसंबर तक जनलोकपाल बिल पास कर देंगे और दिल्ली में जनसभाएं बनाएंगे, जैसा कि आम आदमी पार्टी  ने वादा किया था, हम भाजपा को समर्थग्न पर विचार कर सकते हैं। लेकिन भाजपा से ये उम्मीद करना कि वो रातों-रात ऐसा करेंगे व्यावहारिक नहीं है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You