राहुल युवा नहीं तो बुजुर्ग भी नहीं हैं: थरूर

  • राहुल युवा नहीं तो बुजुर्ग भी नहीं हैं: थरूर
You Are HereNational
Tuesday, December 10, 2013-1:27 PM

नर्इ दिल्ली: केंद्रीय मंत्री और कांग्रेसी नेता शशि थरूर ने  कहा कि देश में अगली पीढ़ी के नेतृत्व संभालने का समय आ गया है और भाजपा के नरेंद्र मोदी के मुकाबले में उनकी पार्टी प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के लिए राहुल गांधी को पेश करने के मुद्दे पर निर्णय लेगी। जब संसद परिसर में थरूर से पूछा गया कि क्या राहुल गांधी को मोदी के खिलाफ प्रधानमंत्री पद के पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर पेश किया जाना चाहिए तो उन्होंने कहा, ‘‘पार्टी इस बारे में निर्णय लेगी। हमारे यहां प्रेसीडेंशियल चुनाव व्यवस्था नहीं है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस के पास भरपूर नेतृत्व है। हमारे पास दूसरी पीढ़ी का अच्छा नेतृत्व भी है।’’विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की हार के बाद कांग्रेस में इस विषय पर बहस चल रही है कि क्या राहुल को आगामी लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर पेश किया जाना चाहिए।
 
थरूर ने कहा, ‘‘राहुल युवा नहीं हैं लेकिन बुजुर्ग भी नहीं है। उनमें उर्जा है। नयी पीढ़ी का समय आ गया है।’’उन्होंने कहा कि नीतियों और कार्यक्रमों के आधार पर चुनाव लड़े जाते हैं। थरूर ने कहा, ‘‘लोग कांग्रेस में मूल्य प्रणाली को जानते हैं और लोगों को भाजपा का भी पता है। लोग 2002 से गुजरात में मोदी के रिकार्ड को देखते हुए उन्हें भी जानते हैं।’’
 
चुनाव परिणामों पर उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस पार्टी ने हमेशा मतदाताओं के फैसले का सम्मान किया है। पहले भी कई मौकों पर कांग्रेस पार्टी चुनाव हारी है और उसने बाद में फिर से मतदाताओं का विश्वास जीता है। इसलिए हमें उम्मीद है कि यह आत्मनिरीक्षण का मौका होना चाहिए।’’ सरकार और संगठन के बीच मतभेदों के सवाल पर थरूर ने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता कि पार्टी और सरकार के बीच कोई बड़ा भेद है। सरकार पार्टी की नीतियों और कार्यक्रमों को लागू करती है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You