पोंटी हत्या मामला: गिरफ्तार 22 लोगों ने चड्ढा भाइयों को मारने का षडयंत्र रचा

  • पोंटी हत्या मामला: गिरफ्तार 22 लोगों ने चड्ढा भाइयों को मारने का षडयंत्र रचा
You Are HereNational
Tuesday, December 10, 2013-4:43 PM

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने यहां अदालत के समक्ष दावा किया है कि कारोबारी पोंटी चड्ढा और उनके भाई हरदीप की हत्या के मामले में गिरफ्तार उत्तराखंड अल्पसंख्यक आयोग के निष्कासित प्रमुख एस एस नामधारी और 21 अन्य आरोपी ‘‘हत्या के षडयंत्र’’ में शामिल थे। नामधारी और अन्य आरोपियों ने अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश विमल कुमार यादव के समक्ष जांच एजेंसी के आरोपों को खारिज करते हुए दावा किया है कि वे ‘‘निर्दोष’’ है और उन्हें मामले में ‘‘फंसाया’’ गया है।

 

इस मामले में अभियोग निर्धारित करने के लिए दिल्ली पुलिस और 22 आरोपियों की दलीलें समाप्त होने के बाद अदालत ने उनके वकीलों को कल तक ‘‘लिखित कथन’’ देने का निर्देश दिया। इससे पहले नामधारी के वकील आर एस मलिक ने कहा कि उनके मुवक्किल के खिलाफ कोई कानूनी सबूत नहीं है और आरोपी का उन गोलियों से कोई लेना देना नहीं हैं जो घटनास्थल से या मृत भाइयों के शव से बरामद हुई थीं। मलिक ने अदालत को यह भी बताया कि किसी भी सह आरोपी ने अपने बयानों में नामधारी का नाम नहीं लिया या अपराध में उनकी संलिप्तता का जिक्र नहीं किया।

 

पोंटी और हरदीप की पिछले वर्ष 17 नवंबर को छतरपुर फार्महाउस में गोलीबारी में मौत हो गई थी। दोनों भाइयों के बीच संपत्ति को लेकर कथित रूप से विवाद था। अभियोजन पक्ष ने अदालत को बताया कि दोनों भाई एक-दूसरे से बात नहीं करते थे क्योंकि दोनों के बीच संपत्ति को लेकर विवाद था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You