धरती के स्वर्ग को आतंकवाद ने बनाया नरक : अब्दुल्ला

  • धरती के स्वर्ग को आतंकवाद ने बनाया नरक : अब्दुल्ला
You Are HereNational
Wednesday, December 11, 2013-8:39 AM

नोएडा: केंद्रीय नवीन एवं नवीनीकरणीय ऊर्जा मंत्री डा. फारूख अब्दुल्ला ने यहां मंगलवार को कहा कि धरती का स्वर्ग कहे जाने वाले जम्मू एवं कश्मीर को आतंकवाद ने नरक बना दिया है। कश्मीर की फिजा को सुधारने के लिए सरकारों के साथ-साथ आम लोगों को भी पहल करनी होगी।

उन्होंने कहा कि लोगों को अपनी सोच में बदलाव लाकर और जात-पात से ऊपर उठकर काम करना होगा, तभी देश तरक्की कर पाएगा। डा. अब्दुल्ला ने यह बात एमिटी यूनिवर्सिटी में फिजिक्स ऑफ सेमीकंडक्टर डिवाइस पर आयोजित 17वीं अंतर्राष्ट्रीय कार्यशाला में बतौर मुख्य अतिथि कही।

उन्होंने कहा कि पहले जम्मू एवं कश्मीर सबसे खुशहाल था। कुछ विद्रोही ताकतों की वजह से वहां आतंकवाद पनपा और धरती के स्वर्ग को नजर लग गई और नरक बन गया। इसकी सूरत बदलने के लिए लोगों को अपनी सोच में बदलाव लाना होगा और इसके विकास के लिए कार्य करना होगा।

डा. अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग था और भारत का ही रहेगा। इसकी तस्वीर हम लोगों को ही बदलनी होगी। उन्होंने युवाओं का आह्वान करते हुए कहा कि उन्हें एक नई दुनिया का निर्माण करना है। इसलिए वह जाति-धर्म के ऊपर उठकर कार्य करें।

उन्होंने कहा कि खुदा ने इंसान बनाया है और उसमें कोई फर्क नहीं किया है। कुछ मतलबी इंसान आपस में फर्क कर रहा है और माहौल को खराब कर रहा है।

केंद्रीय मंत्री ने दिल्ली में हुए विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की जीत का उदाहरण देते हुए कहा कि लोगों की सोच में बदलाव आ रहा है। इस नई पार्टी ने राजनीति में सफाई और ईमानदारी लाने की दिशा में कदम उठाकर निराश लोगों में उम्मीद जगाई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You