गिलानी ने जम्मू कश्मीर सरकार से कहा, हमें जनता के बीच जाने दिया जाए

  • गिलानी ने जम्मू कश्मीर सरकार से कहा, हमें जनता के बीच जाने दिया जाए
You Are HereNational
Wednesday, December 11, 2013-9:43 AM

श्रीनगर: कट्टरपंथी अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी ने आज कहा कि अगर सरकार अलगाववादी नेताओं पर पाबंदी लगाना जारी रखेगी तो जम्मू कश्मीर में 1990 के दशक सरीखा माहौल बन जाएगा। गिलानी ने यहां एक सेमिनार में कहा, ‘उन्होंने (सरकार ने) मेरी रैलियों में लोगों की सहभागिता देखी और इससे वे हताश हो गये। इसलिए मुझे घर में नजरबंद किया गया।’

अलगाववादी नेता ने कहा कि युवाओं ने 1990 में बंदूक उठा ली थी और अगर आप हमें जनता के बीच नहीं जाने देंगे और हमारा संदेश नहीं देने देंगे तो वैसे ही हालात बन सकते हैं। पाकिस्तान का जिक्र करते हुए गिलानी ने कहा, ‘प्रमुख बात है कि वहां स्थिरता होनी चाहिए। यह उस देश की सबसे बड़ी जिम्मेदारी है।’ उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान को अपने आंतरिक मुद्दों का हल निकालना चाहिए, बलूचिस्तान के लोगों को पाकिस्तानी माना जाना चाहिए और ड्रोन हमलों का खात्मा करना चाहिए।’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You