जब सदन में फफक-फफक कर रो पड़े प्रमोद तिवारी

  • जब सदन में फफक-फफक कर रो पड़े प्रमोद तिवारी
You Are HereNational
Wednesday, December 11, 2013-9:59 AM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा के वरिष्ठतम सदस्य प्रमोद तिवारी आज सदन में भावुक होकर फफक फफककर रो पड़े। तिवारी ने राज्यसभा के लिए नामांकन किया है। उनका चुना जाना तय है। विधानसभा के शीतकालीन सत्र के अन्तिम दिन उन्होंने कहा कि वह 34 वर्ष से लगातार इस सदन के सदस्य हैं। अब उन्हें राज्यसभा जाना पड़ रहा है। इस दौरान उन्होंने तमाम उतार चढ़ाव और कई मुख्यमंत्री देखे। इसके बाद वह भावुक होकर रोने लगे। संसदीय कार्यमंत्री मो. आजम खां ने उनकी इस सदन से जुदाई को दु:खद बताया और उम्मीद जतायी कि देश के सबसे बडे सदन में जाकर उनके व्यक्तित्व में और निखार आयेगा। उन्होंने तिवारी समर्थन देने के लिए अपनी पार्टी अध्यक्ष मुलायम सिंह को धन्यवाद दिया और बेहतर राजनीतिक दोस्त बताया। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कलराज मिश्र ने कहा कि तिवारी का व्यक्तित्व और उभरेगा।

 मिश्र भी इस मौके पर भावुक दिखे। नेता विपक्ष स्वामी प्रसाद मौर्य ने चुटकी ली कि जिस (कोहिनूर) को कांग्रेस नहीं समझ पायी उसे मुलायम सिंह यादव ने समर्थन देकर राज्यसभा पहुंचा दिया। रालोद के दलवीर सिंह ने उन्हें संसदीय परम्पराओं का मर्मज्ञ बताया और कहा कि उनकी कमी इस सदन को खलेगी। भाजपा के सतीश महाना के प्रस्ताव पर पूरे सदन ने एवं उन्हें बधाई दी। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी देश के उच्च सदन में जाने के लिए तिवारी को बधाई दी और उम्मीद जतायी कि तिवारी उत्तर प्रदेश की समस्याओं को राज्यसभा में उठाने में सफल होंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You