नारायण साईं ने बलात्कार का गुनाह कुबूला

You Are HereNational
Wednesday, December 11, 2013-3:17 PM

नई दिल्ली: गुजरात पुलिस ने आज यहां दावा किया कि आसाराम के बेटे नारायण साईं ने एक महिला द्वारा उसके खिलाफ लगाए गए बलात्कार के आरोपों को ‘‘कमोबेश’’ स्वीकार कर लिया है । सूरत के पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने मीडियाकर्मियों को बताया, ‘‘हमारी गहन पूछताछ में साईं ने(सूरत आधारित) दो बहनों में से एक द्वारा लगाए गए बलात्कार के आरोपों को कमोबेश स्वीकार कर लिया है ।’’ उन्होंने बताया कि साईं ने पुलिस पूछताछ में खुलासा किया कि उसके अपनी आठ शिष्याओं के साथ शारीरिक संबंध थे । अस्थाना ने कहा, ‘‘जानकारी में यह बात सामने आई है कि साई अपनी सेविकाओं में से एक के बच्चे का पिता है ।’’

अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने शिकायतकर्ता की मौजूदगी में साईं से संयुक्त पूछताछ की। यह पता लगाने के लिए साईं से गहन पूछताछ की गई कि वह 58 दिन तक गिरफ्तारी से कैसे बचता रहा और उस समय किसने उसकी मदद की जब वह फरार था। पुलिस ने बताया कि साई से उसकी अलग हुई पत्नी की मौजूदगी में भी पूछताछ की गई। साईं को एक स्थानीय अदालत ने पांच दिसंबर को आज तक के लिए पुलिस की हिरासत में भेज दिया था।

अस्थाना ने बताया कि हालांकि, साईं का रिमांड आज खत्म हो गया, लेकिन पूछताछ और सबूत जुटाने के लिए उसकी पुलिस हिरासत और बढ़ाए जाने की मांग की जाएगी तथा उसे आज अदालत में पेश किया जाएगा। दिल्ली...हरियाणा सीमा पर गिरफ्तारी के बाद साईं को 4 दिसंबर को सूरत लाया गया था। दोनों बहनों ने साईं और उसके पिता आसाराम के खिलाफ यौन उत्पीडऩ, अवैध रूप से रोककर रखने तथा अन्य आरोपों के तहत शिकायत दर्ज कराई थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You