हरियाणा के अफसरों पर डोरे डालने में जुटी ‘आप’

  • हरियाणा के अफसरों पर डोरे डालने में जुटी ‘आप’
You Are HereNational
Wednesday, December 11, 2013-1:23 PM

चंडीगढ़: महज एक साल की लड़ाई में दिल्ली की शीला सरकार को उखाड़ फैंकने वाली आम आदमी पार्टी ‘आप’ अब हरियाणा में पांव जमाने की जुगत में जुट गई है। बताया गया कि प्रदेश के कई आई.ए.एस. व आई.पी.एस. अफसरों को आप पार्टी से जोडऩे की मुहिम शुरू की गई है। चर्चाओं पर यकीन करें तो हरियाणा के चर्चित आई.ए.एस. अधिकारी अशोक खेमका के साथ आप की ओर से संपर्क साधा गया है।

हालांकि खेमका ने इसकी पुष्टि नहीं की, लेकिन सूत्रों की मानें तो आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल के संपर्क में राज्य के कई आई.ए.एस. अफसर हैं जो नौकरी छोड़ कर उनके साथ जुडऩा चाहते हैं।  इस बात की चर्चा सत्ता के गलियारे में भी सुनने को मिल रही है कि यदि आप की दिल्ली में सरकार बन जाती है तो कई अफसर उसके साथ हाथ मिला सकते हैं। अफसरों के अलावा कई अन्य प्रतिष्ठित लोग भी आप की छत्रछाया में भाग्य आजमाना चाहते हैं।

गौरतलब है कि हरियाणा के भूमि अधिग्रहण सरीखे मुद्दों पर आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल कई बार सवाल उठा चुके हैं। यही नहीं कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा और डी.एल.एफ. डील मामले में भी अरविंद केजरीवाल ने हुड्डा सरकार पर जमकर वार किया था। केजरीवाल ने इस डील का खुलासा करने वाले हरियाणा के चॢचत आई.ए.एस. अधिकारी अशोक खेमका के कार्यों को सराहते हुए उनके बार-बार तबादले पर आपत्ति जताई थी। माना जा रहा है कि इन मुद्दों के जरिए अरविंद केजरीवाल का खेमका से जुड़ाव बना हुआ है।

मौजूदा समय में यह मामला अहम इसलिए हो गया है कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में 15 साल पुरानी शीला दीक्षित की सरकार को उखाडऩे के बाद अब आगामी चुनाव के दृष्टिगत हरियाणा की ओर बढऩे का फैसला लिया है। इसलिए इस बात की चर्चा है कि हरियाणा के आगामी विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के अलावा अन्य कई शहरी सीटों पर आप के उम्मीदवार भाग्य आजमाएंगे।

आम आदमी पार्टी की सफलता की चर्चा हरियाणा की अफसरशाही में भी खूब सुनने को मिल रही है। बताया गया कि यहां के कई अफसर नौकरी छोड़ कर आप पार्टी में शामिल होने की इच्छा रखते हैं। हालांकि आप में जाने की सर्वाधिक चर्चा अशोक खेमका की हो रही है क्योंकि वह पहले से अरविंद केजरीवाल के साथ जुड़े हुए हैं लेकिन खेमका ने इस पर कोई कमैंट नहीं किया।  जबकि आप की ओर से खेमका को न्यौता भेजने की बात कही जा रही है।

सूत्रों की मानें तो हरियाणा के कई और ईमानदार आई.ए.एस. व आई.पी.एस. अफसर आप के साथ दांव आजमाना चाहते हैं। लेकिन अभी तक किसी के नामों का खुलासा नहीं हो सका है। मंगलवार को हरियाणा सिविल सचिवालय में पत्रकार वार्ता के दौरान अशोक खेमका के आप पार्टी में जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कोई टिप्पणी नहीं की। हां उन्होंने इतना जरूर कहा कि हर व्यक्ति को कहीं भी जाने का अधिकार है। वहीं अफसरशाही में भी आप के हरियाणा में आनपे की चर्चा होती रही।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You