राहुल के बयान पर ‘आप’ गंभीर नहीं

  • राहुल के बयान पर ‘आप’ गंभीर नहीं
You Are HereNational
Thursday, December 12, 2013-10:45 PM

नई दिल्ली : कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी दिल्ली में सरकार बनाने के लिए आम आदमी पार्टी को समर्थन देने के बारे में सलाह कर रहे हैं। लेकिन ‘आप’ के नेता राहुल की इस बात को लेकर कतई गंभीर नहीं हैं।

कांग्रेस से महासचिव व दिल्ली के प्रभारी डॉ. शकील अहमद ने भी दो दिन पहले कहा था कि दिल्ली में सरकार बनाने के लिए आम आदमी पार्टी को आगे आना चाहिए। कांग्रेस बिना शर्त बाहर से उन्हें समर्थन देने के लिए तैयार हैं।

सरकार बनाकर ‘आप’  के नेता चुनाव के दौरान जनता से किए गए वादे भी पूरे कर सकेंगे। यदि दिल्ली में बिजली के बिल 50 प्रतिशत कम और 700 लीटर तक पानी निशुल्क मिलने लगेगा, तो कांग्रेस को भी इस बात की खुशी होगी। यदि आप सरकार बनाने में भाजपा से समर्थन लेना नहीं चाहती, तो कांग्रेस बिना शर्त आप को समर्थन देने के लिए तैयार है।
 
लेकिन कांग्रेस में ही इस मुद्दे को लेकर नेताओं के बीच तरह-तरह की चर्चाएं शुरू हो गई हैं, कि क्या सोचकर आप को सरकार बनाने में समर्थन देने की बात कर रहे हैं। जिस पार्टी ने कांग्रेस के दिग्गजों को धूल जटा दी और जिसने शीला दीक्षित को हराकर दिल्ली में उनके राजनीतिक भविष्य पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है, उस पार्टी के साथ नेता किस तरह का समर्थन देने की बात कर रहे हैं।

कांग्रेस के नेता इस बारे में बेशक कुछ भी कहें, लेकिन आप के नेता पहले ही साफ कर चुके हैं कि सरकार गठित करने के लिए वह भाजपा या कांग्रेस को न तो समर्थन देंगे और न ही लेंगे। आप के नेताओं ने साफ कर दिया है कि जनादेश के अभाव में आप अब किसी से भी सरकार बनाने की बात नहीं करेगी। आप को विश्वास है कि दोबारा चुनाव होने पर पूर्ण बहुमत हासिल करने के बाद ही सरकार बनाई जाएगी।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You