राज्यसभा में पेश हुआ लोकपाल बिल

  • राज्यसभा में पेश हुआ लोकपाल बिल
You Are HereNational
Friday, December 13, 2013-8:24 PM

नई दिल्ली : अन्ना के अनशन के दबाव में केंद्र सरकार ने शुक्रवार को राज्यसभा में लोकपाल बिल पेश तो कर दिया लेकिन कुछ दलों के हंगामे की वजह से इसपर चर्चा नहीं हो सकी। बिल पेश होने के बाद, यूपीए सरकार को बाहर से समर्थन दे रही समाजवादी पार्टी (सपा) और तेलगु देशम पार्टी (टीडीपी) के हो- हल्ला की वजह से राज्यसभा की कार्यवाही सोमवार तक स्थगित करनी पड़ी।

प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री नारायण स्वामी ने राज्यसभा में जैसे ही संशोधित लोकपाल बिल पेश किया सपा के नेता इसके खिलाफ नारे लगाने लगे। सपा नेता नरेश अग्रवाल ने कहा कि लोकपाल कानून से पुलिस राज को बढ़ावा मिलेगा।

उन्होंने कहा कि सरकार को पहले मंहगाई पर चर्चा करनी चाहिए। सपा के साथ ही टीडीपी ने भी आंध्र प्रदेश बांटने और तेलंगाना राज्य बनाने को लेकर हंगामा शुरू कर दिया। इस पर पहले सदन की कार्यवाही 3:30 तक स्थगित की गई। लेकिन दोबारा कार्यवाही शुरू होने के साथ ही समाजवादी पार्टी ने फिर हंगामा शुरू कर दिया। इसके बाद राज्यसभा को सोमवार तक स्थगित कर दिया गया।

हालांकि बीजेपी, जदयू, बसपा और सीपीआई बिल पास कराने को लेकर सरकार के साथ दिख रही है। बीजेपी ने कहा कि अगर बिल में चयन समिति के सुझाओं के अनुसार संशोधन होते हैं तो बिल पास होना चाहिए। सीपीआई नेता अतुल अंजान ने कहा कि यह बिल पास होना चाहिए। जनता चाहती है कि इस बिल में प्रधानमंत्री से लेकर नीचे के कर्मचारी भी शामिल हों। बसपा अध्यक्ष मायावती ने कहा है कि उनकी पार्टी इस बिल का समर्थन करेगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You