केजरीवाल ने सरकार बनाने पर चर्चा के लिए उपराज्‍यपाल से दस दिन का समय मांगा

You Are HereNational
Saturday, December 14, 2013-11:16 AM

नई दिल्ली: दिल्ली में सरकार बनने को लेकर अभी भी असमंसज बरकरार है। हालांकि आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के उपराज्यपाल से मुलाकात से मुलाकात करने के बाद उन्हें पार्टी की तरफ से एक चिट्ठी सौंपी है, जिसमें उन्‍होंने 10 दिन का समय मांगा है।

आज सुबह करीब साढ़े दस बजे उपराज्‍यपाल नजीब जंग और अरविंद केजरीवाल के बीच मुलाकात हुई। इसमें केजरीवाल ने उपराज्यपाल को औपचारिक तौर पर पार्टी का जवाब सौंपा। मुलाकात के बाद केजरीवाल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सवाल उठाया कि बीजेपी और कांग्रेस हमें बिना मांगे समर्थन क्यों दे रहे हैं।

अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर दोहराया है कि वह न तो किसी को समर्थन देंगे और न ही समर्थन लेंगे। इसके साथ ही केजरीवाल ने सोनिया गांधी और राजनाथ सिंह को चिट्ठी लिखकर कई मुद्दे उठाए हैं। केजरीवाल ने बताया कि चिट्ठी में कहा गया है कि राजनीतिक दल बिना शर्त आम आदमी पार्टी को समर्थन देने के दावे कर रहे हैं, लेकिन राजनीति में बिना शर्त समर्थन दिया नहीं जाता। ऐसे में सोनिया व राजनाथ ये साफ करें कि क्या वो आम आदमी पार्टी के मुद्दों को समर्थन दे रहे हैं।

केजरीवाल ने उपराज्यपाल से कहा कि उन्हें उम्मीद है कि 7 दिन के भीतर उन्हें सोनिया और राजनाथ का जवाब मिल जाएगा। इसके बाद तीन दिन तक आम आदमी पार्टी इन दोनों नेताओं के जवाब पर विचार करेगी जिसके बाद ही वे दिल्ली में सरकार बनाने के किसी फैसले पर पहुंच सकते हैं।

सूत्रों की मानें तो आम आदमी पार्टी अल्पमत सरकार बनाने के लिए तैयार है, लेकिन किसी भी पार्टी का समर्थन नहीं लेगी। कहा जा रहा है कि अगर कोई उनको समर्थन देता है, तो वो उस पार्टी का फैसला होगा। माना जा रहा है कि इसके पीछे आप की कूटनीति यह है कि लोगों में यह संदेश दिया जाए कि सबसे बड़ी पार्टी भाजपा सरकार बनाने से पीछे हट गई, पर उन्होंने लोगों से किए वादे पूरे करने के लिए सरकार बनाई फिर चाहे वो अल्पमत की सरकार ही क्यों न हो। वो लोगों की खिदमत करने का अपना वादा पूरा करना चाहते हैं। इस तरह अगर थोड़े वक्त के बाद उनकी सरकार टूट भी जाती है तो भी वो ठीकरा भाजपा और कांग्रेस पर ही फोड़ सके।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You