लोकपाल विधेयक देश की जरूरत: राहुल

  • लोकपाल विधेयक देश की जरूरत: राहुल
You Are HereNational
Saturday, December 14, 2013-9:58 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा मैंने कभी नहीं कहा कि लोकपाल विधेयक सारी समस्याओं का समाधान है लेकिन यह एक बड़ा कदम है, जिसे हमें उठाना चाहिए। राहुल ने कहा कांग्रेस लोकपाल के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है और अन्य पार्टियों को भी इसे पास करवाने में मदद करनी चाहिए।

लोकपाल विधेयक की मांग को लेकर पांच दिन से अनशन पर बैठे अन्ना हजारे ने सरकारी लोकपाल को मंजूर कर लिया है। सूत्रों के अनुसरार अन्ना चाहते है कि विधेयक जल्द से जल्द पास हो। परंतु अन्ना के करीबियों का कहना है कि सारी बातें तो सरकार भी नही मान सकती लेकिन बिल में जितनी बातें है वह अन्ना को स्वीकार है। उधर अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी का कहना है कि सरकारी लोकपाल में नया कुछ भी नही है और उन्होंने इसे खारिज कर दिया है।

कांग्रेस मुख्यालय पर एक विशेष संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए राहुल ने इन सुझावों को खारिज कर दिया कि सरकार दिल्ली के चुनाव में आम आदमी पार्टी के हाथों मिली हार और अन्ना हजारे के अनशन की वजह से इस विधेयक पर खास जोर दे रही है। राहुल ने कहा हम आरटीआई पहले ही ला चुके हैं जो भ्रष्याचार के खिलाफ संघर्ष मे सबसे बड़ा हथियार है। भ्रष्टाचार के खिलाफ लोकपाल गंभीर हथियार है और इसे पारित कराने के लिए हम संघर्ष कर रहे हैं लेकिन संसद की कार्यवाही बाधित होती रही है।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकपाल विधेयक को देश की जरूरत बताते हुए सभी दलों से इसे संसद में पारित कराने में सहयोग करने की अपील की है क्योंकि भ्रष्टाचार के खिलाफ संघर्ष में यह एक शक्तिशाली हथियार है। लोकपाल विधेयक पर सोमवार को राज्य सभा में चर्चा की संभावना के बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘‘हमारा काम इस देश को एक मजबूत लोकपाल विधेयक देना है। हम 99 प्रतिशत तक पहुंच चुके हैं और अब हमें राजनीतिक दलों से बाकी एक प्रतिशत की जरूरत है तब हम लोकपाल का काम पूरा कर लेंगे।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You