केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री शीशराम ओला का निधन

You Are HereNational
Sunday, December 15, 2013-2:09 PM

नई दिल्ली: केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री शीश राम ओला का लंबी बीमारी के कारण गुडग़ांव के एक अस्पताल में आज निधन हो गया। वह 86 वर्ष के थे। मेदांता मेडिसिटी के सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस के नेता स्वास्थ्य संबंधी विभिन्न समस्याओं से पीड़ित थे। उनकी पत्नी, दो बेटे और एक बेटी है। 30 जुलाई 1927 को जन्मे जाट नेता ओला राजस्थान के झुंझुनू संसदीय क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते थे। वह 1957 से 1990 तक राजस्थान विधानसभा के सदस्य रहे और 1980 से 1990 तक राजस्थान सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे। ओला का जन्म 30 जुलाई 1927 को झुंझुनू जिले के अरडावता ग्राम में एक साधारण कृषक परिवार में हुआ।

 

उन्होंने मैट्रिक तक शिक्षा प्राप्त कीऔर 1948 से 1951 तक अरडावता ग्राम पंचायत के सरपंच रहे। वह 1957 अैर 1962 के चुनावों में कांग्रेस टिकट पर खेतडी क्षेत्र से विधायक चुने गये लेकिन 1967 में पराजित हो गए। बाद में 30 जून 1969  वह खेतडी क्षेत्र से ही उपचुनाव में पुन: विजयी हुए। इसी तरह 1972 और 1977 में  वह  पिलानी तथा 1980-1985 और 1993 के चुनावों में झुंझुनू क्षेत्र से विधायक चुने गए। ओला प्रथम बार 18 फरवरी 1981 को जगन्नाथ पहाडिया मंत्रिमंडल में और इसके बाद 20 जुलाई 1981 को शिवचरण माथुर मंत्रिमंडल में ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज तथा सैनिक कल्याण विभाग के प्रभारी राज्य मंत्री नियुक्त किए गए।

 

वह 1985 के विधान सभा चुनाव के बाद हरिदेव जोशी मंत्रिमंडल में 11 मार्च  को सहकारिता वन एवं पर्यावरण और सैनिक कल्याण आदि विभागों के प्रभारी राज्यमंत्री बनाए गए और 16 अक्तूबर 1985 को कैबिनेट मंत्री के रूप में पदोन्नत किए गए इसके बाद बनी माथुर सरकार में वह 06 फरवरी 1988 को शामिल किए गए और जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी भू-जल तथा सैनिक कल्याण विभाग का दायित्व सौंपा गया। 12 जून 1989 को उनका विभाग बदलकर सिंचाई रावी व्यास नदियों के सिस्टम संबंधित कार्य आबकारी तथा सैनिक कल्याण विभाग दिया गया।

 

दो दिसम्बर 1989 को माथुर मंत्रिमंडल के त्यागपत्र के बाद बनी जोशी सरकार में 15 दिसम्बर 1989 में वह पुन: मंत्री के रूप में शामिल किए गए तथा एक मार्च 1990 तक इस पद पर रहे। ओला को सैनिक कल्याण कर्यों में विशिष्ट योगदान के लिए केन्द्र सरकार ने 1969 में पद्मश्री से अलंकृत किया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You