भारतीय सैनिक का सिर काटने की घटना, धन देने के आरोप बने सुर्खियां

  • भारतीय सैनिक का सिर काटने की घटना, धन देने के आरोप बने सुर्खियां
You Are HereNational
Sunday, December 15, 2013-3:06 PM

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सैनिकों की मदद से उग्रवादियों द्वारा एक भारतीय जवान का सिर काटने की घटना और धन देने के पूर्व सेना प्रमुख के आरोप जहां सुर्खियां बने वहीं पूरे बरस संघर्ष विराम उल्लंघन की घटनाएं भी होती रही। साल की शुरूआत में पुंछ जिले के कृष्णा घाटी सेक्टर में पाकिस्तानी सैनिकों की मदद से उग्रवादियों ने दो भारतीय सैनिकों को मार डाला और एक का सिर काट कर अपने साथ ले गए।

पूरा देश इस घटना से उद्वेलित हो गया। संसद पर हमले के दोषी मोहम्मद अफजल गुरू को फांसी दिए जाने के विरोध में जम्मू-कश्मीर में व्यापक विरोध हुआ और सुरक्षा बलों के साथ संघर्ष में 4 लोग मारे गए। नियंत्रण रेखा पर सीमा पार से संघर्षविराम का बार बार उल्लंघन होता रहा। सुरक्षा बलों को उग्रवादियों ने कई बार निशाना बनाया। 24 जून को हैदरपोरा में सैन्य काफिले पर उग्रवादी हमले में 8 जवान मारे गए और 12 से अधिक घायल हो गए।

हमले के अगले दिन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने प्रतिष्ठित कश्मीर रेल परियोजना के काजीगुंड बनिहाल लिंक का उद्घाटन किया और किश्तवाड़ में 850 मेगावाट की बिजली परियोजना की नींव रखी। अगस्त में पाकिस्तानी सैनिकों ने पुंछ सेक्टर में नियंत्रण रेखा के भारतीय भूभाग में प्रवेश कर 5 भारतीय सैनिकों को मार डाला। एक माह बाद सेना ने इन खबरों के बीच कश्मीर के केरन सेक्टर के शालाभट्टी में घुसपैठ निरोधक अभियान चलाया कि पाक समर्थित उग्रवादी सैनिकों की मदद से घुसपैठ कर कुछ भारतीय गांवों में छिपे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You