कांग्रेस नहीं, सिर्फ सपा ही रोक सकती है साम्प्रदायिक ताकतों को: अखिलेश

  • कांग्रेस नहीं, सिर्फ सपा ही रोक सकती है साम्प्रदायिक ताकतों को: अखिलेश
You Are HereNational
Monday, December 16, 2013-4:10 PM

लखनउ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हाल में देश के कुछ विधानसभा क्षेत्रों में कांग्रेस की पराजय और उसके बाद बने माहौल में उसकी साप्रदायिकता से लडऩे की क्षमता पर सवाल उठाते हुए आज कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में पूरे देश की नजरें समाजवादी पार्टी (सपा) पर होंगी क्योंकि अब वह ही फिरकापरस्त ताकतों को रोक सकती है।

मुख्यमंत्री ने यहां संवाददाताओं से कहा कि जैसा कि हाल में दिल्ली, राजस्थान समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के नतीजे आए हैं, और जैसा माहौल है उसको देते हुए यही कहा जाएगा कि कांग्रेस अब साप्रदायिक ताकतों को नहीं रोक पाएगी। उन्होंने कहा ‘आगामी लोकसभा चुनाव में पूरी नजर सपा पर होगी। साप्रदायिक ताकतों को कोई रोक सकता है तो सपा और उत्तर प्रदेश ही रोक सकता है।’ अखिलेश ने कहा ‘‘सपा सरकार के एजेंडा में विकास के साथ-साथ साप्रदायिक ताकतों को रोकना ही शामिल है।

साप्रदायिक ताकतों को कैसे रोके उस दिशा में सरकार, संगठन और पार्टी काम करेगी।’ उन्होंने कहा कि देश की जनता केन्द्र में ऐसा विकल्प चाहती है। वह भाजपा और कांग्रेस के खिलाफ उनके समतुल्य दल या गठबंधन चाहती है। मुख्यमंत्री ने मुजफ्फरनगर दंगा पीड़ितों के राहत शिविरों में कई बच्चों की मृत्यु के सवाल पर कहा कि सरकार ने दंगा पीड़ितों की मदद के लिए सही प्रयास किए हैं। बच्चों की मृत्यु के मामले पर समिति बनाई गई है, उसकी रिपोर्ट के आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You