अमेरिकी डिप्लोमेट के खिलाफ कड़ा कदम उठाने की जरूरत: यशवंत सिन्हा

You Are HereNational
Wednesday, December 18, 2013-4:21 PM

नर्इ दिल्ली: न्यूयार्क में एक आईएफएस अधिकारी की गिरफ्तारी के बाद भारत द्वारा अमेरिकी राजनयिकों की सुविधाओं में कटौती करने के बीच भाजपा नेता यशवंत सिन्हा ने आज मांग की कि सरकार समलैंगिक संबंधों के खिलाफ उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद समलैंगिक साथियों के साथ भारत में रह रहे अमेरिकी राजनयिकों के खिलाफ कार्रवाई करे।
 
सिन्हा ने कहा कि मीडिया में खबर है कि हमने अमेरिकी राजनयिकों के कई साथियों को वीजा जारी किया है। ‘साथी’ (कंपेनियन्स) का मतलब यह हुआ कि वे समान लिंग के हैं। अब उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद, हमारे देश में यह पूरी तरह से अवैध है, जैसे कि अमेरिका में कम वेतन देना अवैध है।
 
सिन्हा ने कहा कि इसलिए, भारत सरकार आगे बढकर उन्हें गिरफ्तार कर सजा क्यों नहीं देती है। भारत वर्ष 1999 बैच की आईएफएस अधिकारी और भारतीय राजनयिक देवयानी खोबरागाडे की न्यूयार्क में वीजा में धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तारी से नाराज है। उन्हें ढाई लाख डालर के मुचलके पर बाद में रिहा कर दिया गया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You