‘दलितों के घर भोजन करके राहुल की नकल कर रहे शिवराज’

  • ‘दलितों के घर भोजन करके राहुल की नकल कर रहे शिवराज’
You Are HereNational
Wednesday, December 18, 2013-10:37 AM

इंदौर: लगातार तीसरी बार मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद शिवराज सिंह चौहान द्वारा दलितों के घर भोजन करने का सिलसिला शुरू करने पर सियासत प्रारंभ हो गयी है। कांग्रेस ने आज कहा कि शिवराज का दलित प्रेम आगामी लोकसभा चुनावों से पहले जागा है और वह इस समुदाय के लोगों के घर भोजन करके कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की नकल ही कर रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि शिवराज ने 15 दिसंबर को भोपाल की झुग्गी बस्ती अन्ना नगर में एक दलित शख्स के घर खाना खाकर अपने सार्वजनिक कार्यक्रमों की शुरूआत की थी। इसके बाद उन्होंने  16 दिसंबर की रात इंदौर में पंचम की फैल इलाके में एक दलित विधवा के झोंपड़े में भोजन किया।

तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने के बाद अपने पहले इंदौर दौरे में शिवराज ने संवाददाताओं से कहा, ‘इस भोजन में जैसी आत्मीयता और स्वाद था, वैसी आत्मीयता और स्वाद किसी और भोजन में नहीं मिल सकता।’  मुख्यमंत्री ने जोर देकर कहा कि प्रदेश सरकार समाज के गरीब तबके की रोटी, कपड़ा और मकान की बुनियादी जरूरतें पूरी करने की कोशिश कर रही है। इसके साथ ही, इस तबके केे जीवन स्तर में सुधार और आमदनी में वृद्धि के भी प्रयास जारी हंै ताकि यह वर्ग ‘मदद लेने वाले’ से ‘मदद देने वाला’ बन जाये। उधर, कांंग्रेस ने शिवराज के दलित प्रेम को दिखावा करार देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री आगामी लोकसभा चुनावों में भाजपा को सियासी फायदा दिलाने के लिये कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की नकल कर रहे हैं।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने आज ‘भाषा’ से कहा, ‘जब राहुल दलितों के घर भोजन करते हैं, तो भाजपा उन पर सवाल उठाती है। अब खुद शिवराज दलितों के घर खाना खाकर कांग्रेस उपाध्यक्ष की नकल कर रहे हैं।’  सलूजा ने कहा, ‘शिवराज का दिखावे का दलित प्रेम आगामी लोकसभा चुनावों से पहले जागा है। वह गरीब तबके के विकास केे नाम पर धड़ल्ले से घोषणाएं कर रहे हैं, जबकि उनके पिछले कार्यकाल की कई महत्वपूर्ण घोषणाएं अब तक अधूरी हैंं।’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You