जस्टिस गांगुली मामला: जेठमलानी बोले, जरूरी नहीं सभी औरतें सच बोलती हैं और पुरुष झूठ

  • जस्टिस गांगुली मामला: जेठमलानी बोले, जरूरी नहीं सभी औरतें सच बोलती हैं और पुरुष झूठ
You Are HereNational
Wednesday, December 18, 2013-10:48 AM

नई दिल्ली: लॉ इंटर्न लड़की का यौन शोषण मामले में फंसे आरोपी सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज एके गांगुली पर सवाल खड़े होने शुरू हो गए हैं और गांगुली को अनके पद से हटाए जाने की मांग की जा रही है। वहीं गांगुली के सपोर्ट में खड़े देश के वरिष्ठ वकील और पूर्व कानून मंत्री राम जेठमलानी सामने आए हैं। जेठमलानी एक केस के सिलसिले में कोलकाता पहुंचे जहां उन्होंने कहा कि वे गांगुली मामले में किसी तरह के अंदाजे लगाने के खिलाफ हूं और जो ऐसा कर रहे हैं वे गैर जिम्मेदाराना हैं।

 

जेठमलानी ने कहा कि वे नहीं मानते कि जो बयान लड़की ने दिया है वह सही है और जो पुरुष बोल रहे हैं वे झूठे हैं। जेठमलानी ने कहा कि क्रॉस एग्जामिनेशन के बिना लड़की के बयान को सही नहीं माना जा सकता। वहीं जेठमलानी ने कहा कि जब पूर्व जज और लड़की के बीच यह वाकया हुआ तब मैं तो वहां नहीं था लेकिन जब तक आरोप लगाने वाले से सवाल-जवाब न हों किसी भी बात पर यकीन नहीं किया जा सकता।

 

जेठमलानी ने कहा कि हो सकता है कि वो लड़की सही कह रही हो और ऊंचे पदों पर बैठे लोगों ने पहले भी अपराध किए हैं लेकिन मैं यह भी नहीं मानता कि सभी औरतें हमेशा सच ही बोलती हैं और पुरुष झूठ बोलते हैं। गौरतलब है कि कई बड़े नेता इस मसले पर जस्टिस गांगुली को पद छोड़ने के लिए कह चुके हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You