नर्सरी एडमिशन में मैनेजमेंट कोटा हुआ खत्म

  • नर्सरी एडमिशन में मैनेजमेंट कोटा हुआ खत्म
You Are HereNcr
Thursday, December 19, 2013-1:14 PM

नई दिल्ली: उप-राज्यपाल नजीब जंग ने नर्सरी एडमिशन के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं। नई गाइडलाइंस में प्राइवेट स्कूलों में मैनेजमेंट कोटे को पूरी तरह खत्म कर दिया गया है। इसके बाद दिल्ली के सभी पब्लिक स्कूलों को एक समान प्वाइंट सिस्टम के तहत बच्चों को नर्सरी में एडमिशन देना होगा। इसके साथ ही शिक्षा निदेशालय ने भी अपने आदेश में दाखिले के प्वाइंट्स निर्धारित करते हुए उनका वेटेज तय कर दिया है।

इसके तहत  6 किलोमीटर की दूरी पर रहने वाले बच्चों को 70 प्वाइंट्स मिलेंगे। इन्हें सबसे ज्यादा वेटेज दिया जाएगा। वहीं सिबलिंग के 20 और एलुमिनी और ट्रांसफर केस के 5-5 प्वाइंट्स मिलेंगे। नई गाईडलांस के तहत नर्सरी में दाखिले के लिए 31 मार्च 2014 तक बच्चे की उम्र कम से कम 3 साल होनी चाहिए। एडमिशन के लिए आवेदन प्रक्रिया 15 जनवरी 2014 से शुरू होगी।

गौरतलब है कि पिछले साल तक हर स्कूल अलग-अलग 100 प्वाइंट का फॉर्मूला तैयार करता था। अब इस बार से सभी स्कूलों को शिक्षा निदेशालय के प्वाइंट सिस्टम पर चलना होगा। स्कूलों को नए बदलाव को लागू करने के लिए 15 दिनों का समय दिया गया है।

गाइडलाइंस के तहत नर्सरी कक्षा की सीटों को चार कैटेगरी में बांटा गया है। पहली कैटेगरी के तहत स्कूलों को पहले की तरह 25 फीसदी सीटों पर ईडब्ल्यूएस कोर्ट के छात्रों को एडमिशन देना होगा। 5 फीसदी सीटें स्टाफ कोटे के लिए तय की गई हैं। इन पर स्कूल कर्मचारियों व शिक्षकों के बच्चों को एडमिशन देना होगा। अगर ये कोटा नहीं भरता तो इसकी बची सीटें ओपन सीटों में तब्दील हो जाएंगी।

वहीं को-एजुकेशन स्कूलों में पांच फीसदी सीटें लड़कियों के लिए आरक्षित करनी होंगी। इन सीटों पर एडमिशन ड्रॉ ऑफ लॉट यानी लॉटरी सिस्टम के तहत होंगे। इस कोटे में स्कूल के 6 किलोमीटर के दायरे में रहने वाली लड़कियों का ही लॉटरी के जरिए एडमिशन दिया जाएगा।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You