पीडीपी सत्ता की भूखी, कश्मीर में लोकतंत्र को किया कमजोर

  • पीडीपी सत्ता की भूखी, कश्मीर में लोकतंत्र को किया कमजोर
You Are HereNational
Saturday, December 21, 2013-9:32 AM

श्रीनगर: लोकतांत्रिक तरीके से लोगों का सशक्तिकरण करना नैकां की राजनीति का हिस्सा है। लेकिन राज्य में कुछ राजनैतिक दल लोकतंत्र को कमजोर करना चाहते हैं। ताकि वह अपनी झूठी राजनीति को चमका सके। यह बात मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला के राजनीतिक सलाहकार तनवीर सादिक ने एक बयान में कही। उन्होंने कहा कि पीडीपी हर कीमत पर सत्ता हासिल करना चाहती है।

उन्होंने कहा कि ख्यालों के आदाान-प्रदान और विकास के दौरान लोगों के बहुत से मामले निपटाए जाते रहे हैं। लोकतंत्र लोगों को बेहतर रास्ता प्रदान कर उनके विकास को बढ़ाता है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री के सलाहकार छात्रों, वकीलों और अन्य लोगों से बात कर रहे थे। तनवीर सादिक ने बताया कि उमर अब्दुल्ला सत्ता में रह कर भी राज्य के शहरी की तरह रहते हुए मिसाल पेश की है। उन्होंने कहा कि सभी लोगों को समान अधिकार हैं।

तनवीर सादिक ने कहा कि पीडीपी सत्ता की भूखी है और महबुबा मुफ्ती के बयान लोगों को अपमानजनक लगते हैं। तनवीर सादिक ने कहा कि पीडीपी पैटरन ने गृह मंत्री होते हुए कश्मीर के हालात को खराब करने में कोई कसर नहीं छोडी। उन्होंने कहा कि पीडीपी को लोगों के सामने जवाब देना होगा। उन्होंने कहा कि कश्मीर के लोगों को न सिर्फ तकलीफ पहुंचाई है। बल्कि उन्हें धोका भी दिया है। जिसके लिए उन्हें जलद ही नतीजा भुगतना पड़ेगा।

 

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You