‘सिर्फ मोदी के भाषण से देश में क्रांति नहीं आएगी’

  • ‘सिर्फ मोदी के भाषण से देश में क्रांति नहीं आएगी’
You Are HereNational
Saturday, December 21, 2013-4:31 PM

लखनऊ: राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष मुन्ना सिंह चौहान ने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी के शुक्रवार को वाराणसी में दिए बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि गांव, गरीब और गंगा की बात करने वाले सिर्फ भाषणों से ही क्रान्ति लाना चाहते हैं। चौहान ने मोदी का नाम लिए बगैकर कहा कि गंगा के शुद्धीकरण की चिंता करने वाले पहले यह जवाब दें कि उत्तराखण्ड, उत्तर प्रदेश और देश में उनकी पार्टी की सरकार ने सत्ता में रहते हुये क्या कार्य किया। उन्होंने बताया कि उत्तराखण्ड से उ.प्र. में आने से पहले ही गंगा में प्रदूषण होना शुरू हो जाता है। मुरादाबाद में मिलने वाली रामगंगा का पानी, नैनीताल में कपड़ा मिलों द्वारा छोड़ा गया पानी गंगा को लाल कर देता है।

गंगा को शुद्ध करने के लिए दिल्ली को शुद्ध करने का सियासी बयान देने वाले नेता के मंच पर उस समय भी टिहरी बांध की वकालत करने वाले लोग बैठे थे जो गंगा की अविरल धारा को प्रभावित करती हैं। चौहान ने कहा कि पीएम इन वेटिंग गुजरात में किसानों की उपजाऊ जमीन लेकर उद्योगपतियों को सौंप रहे हैं। उ.प्र. में गांव, गरीब की बात करने वाले गन्ना किसानों के मुददे पर मौन साधे रहे तथा किसानों के हित के लिए न तो कोई आवाज उठाई और न ही इनके पास गांव की पोषक कोई नीति है। रालोद प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि गांव, गरीब, मजदूर और किसान का पेट भाषणों से नहीं नीतियों से भरेगा और इनके हित की नीतियां सिर्फ  राष्ट्रीय लोकदल के पास हैं और रालोद नेताओं को जब भी मौका मिला है इनके हित के लिए कानून बनाने या सड़क पर संघर्ष करके इन्हें न्याय दिलाने का काम किया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You