भाजपा और कांग्रेस के बीच कटाक्षों के बाण

  • भाजपा और कांग्रेस के बीच कटाक्षों के बाण
You Are HereNational
Saturday, December 21, 2013-4:50 PM

नर्इ दिल्ली: बिहार में कांग्रेस और लालू प्रसाद यादव की पार्टी राजद के बीच गठबंधन बनने की संभावनाओं पर भाजपा ने सोनिया गांधी की अध्यक्षता वाले दल के ‘‘विरोधाभास’’ की खिल्ली उड़ाई तो कांग्रेस ने मुख्य विपक्षी दल को बी. एस. येदियुरप्पा को पार्टी में वापस लाने के प्रयासों की याद दिला कर पलटवार किया। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष अरूण जेटली ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर कांग्रेस पर वार करते हुए गुरूवार को ट्वीट किया था, ‘‘क्या विरोधाभास है। कांग्रेस दिल्ली में केजरीवाल तो पटना में लालू का समर्थन कर रही है।’’
 
कांग्रेस के महासचिव शकील अहमद ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए आज भाजपा को याद दिलाया कि वह कैसे कथित भ्रष्टाचार के मामले में कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद से हटाए गए बी एस येदियुरप्पा को पार्टी में वापस लाने का जी तोड़ प्रयास कर रही है। मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने पर मजबूर किए जाने के बाद येदियुरप्पा ने भाजपा से अलग होकर अपनी नर्इ पार्टी का गठन कर लिया है।

भाजपा को अहमद ने चौटाला परिवार की इंडियन नेशनल लोकदल के राजग का हिस्सा होने की भी याद दिलायी। इस पार्टी के प्रमुख ओम प्रकाश चौटाला और उनके पुत्र अजय चौटाला भर्ती घोटाला मामले में जेल में हैं। कांग्रेस नेता ने कटाक्ष का जवाब कटाक्ष से देते हुए कहा, ‘‘जेटली जी कांग्रेस और राजद में गठबंधन की संभावनाओं पर व्यंग्य कर रहे हैं, लेकिन वह येदियुरप्पा को भाजपा में वापस लाने और चौटाला पार्टी को राजग से जोड़े जाने के अपनी पार्टी के प्रयासों को भूल रहे हैं।’’ ऐसी खबरें हैं कि लोकसभा चुनाव से पहले बिहार में राजद, लोजपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन बन सकता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You