देश का प्रधानमंत्री राजनीतिज्ञ होना चाहिए : जेटली

  • देश का प्रधानमंत्री राजनीतिज्ञ होना चाहिए : जेटली
You Are HereNational
Saturday, December 21, 2013-8:30 PM

नई दिल्ली: भाजपा के नेता अरुण जेटली ने शनिवार को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर सीधा हमला किया और कहा कि देश किसी गैर राजनीतिक व्यक्ति को प्रधानमंत्री के रूप में बर्दाश्त नहीं कर सकता है। फिक्की की 86वीं वार्षिक आम सभा के दौरान जेटली ने सत्तारूढ़ संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) पर हमला करते हुए कहा कि यह ‘‘एक लंगड़ी सरकार से मुर्दा सरकार में बदल गई है।’’

जेटली ने जोर देकर कहा कि देश किसी गैर राजनीतिक व्यक्ति को प्रधानमंत्री के रूप में सहन नहीं कर सकता है। यह पद कोई नौकरी जैसा नहीं है और जो भी व्यक्ति इस पद पर आए उसे अपनी पार्टी और देश का स्वाभाविक नेता होना चाहिए। जेटली ने कहा कि प्रधानमंत्री को कभी भी इतना असहाय नहीं होना चाहिए कि उसे काम करने की छूट न हो।

राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और दिल्ली में कांग्रेस की हार का हवाला देते हुए जेटली ने कहा कि इससे सबसे बड़ा संदेश यही मिलता है कि राज्य सरकारें यदि बेहतर शासन चलाएं तो वे सत्ता विरोधी लहर को मात दे सकती हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि संप्रग सरकार आर्थिक मुद्दों पर आम सहमति पैदा करने में भी विफल रही। वस्तु और सेवा कर पर अन्य वक्ताओं द्वारा उठाए गए मुद्दों के बारे में जेटली ने कहा कि ऐसी स्थिति नहीं पैदा करनी चाहिए कि राज्य सरकारें यह महसूस करने लगें कि केंद्र सरकार निष्पक्ष नहीं है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You